31 जुलाई तक बकाया विद्युत बिल जमा करने पर मिलेगी छूट: अधीक्षण अभियन्ता

ग़ाज़ियाबाद(शमशाद रज़ा अंसारी)


लॉक डाउन के कारण सभी के काम धंधे चौपट हो गये हैं। लोग आर्थिक तंगी से जूझ रहे हैं। परिस्थितियों को देखते हुये सरकार ने भी मकान मालिकों से किराया न लेने की बात कही है। शासन प्रशासन का कहना है कि सभी एक दूसरे की मदद करें। विद्युत विभाग ने भी तीन महीने बन्द रहीं दुकानों और कारखानों के विद्युत बिल का एक महीने का फिक्स चार्ज माफ़ करके आर्थिक तंगी से जूझ रहे लोगों को कुछ राहत दी थी। लेकिन उसके लिए उपभोक्ताओं के सामने शर्त रखी थी। शर्त के अनुसार एक महीने का फिक्स चार्ज माफ़ कराने के लिए 30 जून तक बिल जमा कराना था। इस घोषणा के बाद माह जून में प्रदेश के लगभग 4 लाख औद्योगिक एवं वाणिज्यिक उपभोक्ताओं ने योजना का लाभ लिया जिसमें 158.44 करोड़ की छूट प्रदान की गयी। लेकिन फिर भी बड़ी संख्या में उपभोक्ता 30 जून तक बिल जमा नही कर सके। इसके बाद कई संगठनों ने मांग की थी कि कुछ कारणों से कई उपभोक्ता 30 जून तक अपना बिल जमा नही कर सके। इसलिये उन्हें छूट का लाभ लेते हुये एक मौका और दिया जाना चाहिए। विद्युत विभाग ने संगठनों की मांग को स्वीकार करते हुये छूट की अवधि 31 जुलाई तक बढ़ा दी है। अब 31 जुलाई 2020 तक बिल जमा करने वाले उपभोक्ता को अगस्त माह में छूट दे दी जायेगी।
आपको बता दें कि जनपद में बड़ी संख्या में वाणिज्यिक और औद्योगिक विद्युत उपभोक्ता हैं। अप्रैल और मई माह में किसी भी वाणिज्यिक और औद्योगिक उपभोक्ता ने बिजली का उपयोग नहीं किया। इस कारण व्यापारी लम्बे समय से तीन माह का फिक्स चार्ज माफ करने की माँग कर रहे थे।
इस संबंध में अधीक्षण अभियन्ता सिद्धार्थ मिश्रा ने बताया कि वाणिज्यिक और औद्योगिक उपभोक्ताओं का एक माह का फिक्स चार्ज माफ हुआ था। इस योजना के तहत जनपद ग़ाज़ियाबाद में माह जून में लगभग 54 हज़ार उपभोक्ताओं ने इस योजना का लाभ लिया जिसमें 29 करोड़ की छूट प्रदान की गयी। लेकिन किन्ही कारणों से काफ़ी उपभोक्ता इसका लाभ लेने से वंचित रह गये। शासन ने अब यह योजना 31 जुलाई तक बढ़ा दी है। जिन वाणिज्यिक एवं औद्योगिक उपभोक्ताओं ने अभी तक अप्रैल, मई और जून माह का बिल जमा नहीं किया है, वह इस योजना का लाभ उठाने के लिए 20 जुलाई तक विद्युत विभाग की सभी प्रकार की बकाया राशि 31 जुलाई तक जमा करा दें।
मई माह में अनलॉक प्रथम होने के साथ ही सभी दुकान, शोरूम, मॉल, प्रतिष्ठान आदि खुल गए हैं। ऐसे में विद्युत निगम ने राजस्व वसूली के लिए अभियान शुरू कर दिया है। विद्युत बकाया जमा करके किसी भी असुविधा से बचें।