केंद्र सरकार से निवेदन है कि दिल्ली को जल्द से जल्द वैक्सीन उपलब्ध कराएं, हमारे पास अब बेहद कम स्टॉक बचा है: आतिशी

  • केंद्र सरकार की तरफ से वैक्सीन जल्द उपलब्ध नहीं करवाई गई तो 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को दूसरी डोज नहीं लग पाएगी- आतिशी
  • दिल्ली में 12 मई को कुल 74,448 लोगों का वैक्सीनेशन हुआ है- आतिशी
  • 18 से 44 वर्ष तक के 50,294 युवाओं और 45 वर्ष से अधिक उम्र के 24,154 लोगों को वैक्सीन लगायी गई है- आतिशी
  • हेल्थ केयर वर्कर, फ्रंटलाइन वर्कर और 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के लिए करीब 3 दिन की वैक्सीन मौजूद है, कोवैक्सीन का 3 दिन और कोवीशील्ड का 2 दिन का स्टॉक बचा है- आतिशी
  • दिल्ली में 18 से 44 वर्ष तक के युवाओं के लिए कोवैक्सीन खत्म हो चुकी है, इसकी वजह से कोवैक्सीन के लगभग सभी केंद्रों को अस्थायी तौर पर बंद किया जा चुका है, कोवीशील्ड का 8 दिन का स्टॉक बचा है- आतिशी

नई दिल्ली, 13 मई, 2021
आम आदमी पार्टी की विधायक आतिशी ने गुरुवार को वैक्सीन बुलेटिन जारी करते हुए कहा कि केंद्र सरकार से निवेदन है कि दिल्ली को जल्द से जल्द वैक्सीन उपलब्ध कराएं। हमारे पास अब बेहद कम स्टॉक बचा है। केंद्र सरकार की तरफ से वैक्सीन जल्द उपलब्ध नहीं करवाई गई तो 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को दूसरी डोज नहीं लग पाएगी। दिल्ली में 12 मई को कुल 74,448 लोगों का वैक्सीनेशन हुआ है। 18 से 44 वर्ष तक के 50,294 युवाओं और 45 वर्ष से अधिक उम्र के 24,154 लोगों को वैक्सीन लगायी गई है। हेल्थ केयर वर्कर, फ्रंटलाइन वर्कर और 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के लिए करीब 3 दिन की वैक्सीन मौजूद है। कोवैक्सीन का 3 दिन और कोवीशील्ड का 2 दिन का स्टॉक बचा है। दिल्ली में 18 से 44 वर्ष तक के युवाओं के लिए कोवैक्सीन खत्म हो चुकी है, इसकी वजह से कोवैक्सीन के लगभग सभी केंद्रों को अस्थायी तौर पर बंद किया जा चुका है। कोवीशील्ड का 8 दिन का स्टॉक बचा है।

आम आदमी पार्टी की वरिष्ठ नेता एवं विधायक आतिशी ने गुरूवार को वैक्सीनेशन बुलेटिन जारी किया। आतिशी ने कहा कि दिल्ली सरकार की कोशिश है कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को जल्द से जल्द वैक्सीन लगायी जाए, क्योंकि कोरोना महामारी से बचने का यह एकमात्र तरीका है। दिल्ली में कल 12 मई को 74,448 लोगों को वैक्सीन लगाई गई है। दिल्ली में रोजाना करीब सवा लाख लोगों को वैक्सीन लगाई जा रही है। रोजाना के मुकाबले 12 मई बुधवार को कम वैक्सीन इसलिए लगायी गई है क्योंकि बुधवार और शुक्रवार को स्वास्थ्य केंद्र और डिस्पेंसरी पर कोविड वैक्सीन नहीं लगायी जाती है। इसके बजाए बच्चों का अलग-अलग बीमारियों के टीके लगाए जाते हैं।
उन्होंने कहा कि 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों, फ्रंट लाइन वर्कर और हेल्थ वर्कर को डिस्पेंसरी-अस्पताल, हेल्थ सेंटर में वैक्सीनेशन होता है। लेकिन बुधवार होने की वजह से उनका कल कम टीकाकरण हुआ है।
विधायक ने कहा कि दिल्ली में 12 मई को कुल 74,448 लोगों का वैक्सीनेशन हुआ है, इसमें से 18 से 44 वर्ष तक के 50,294 युवाओं का टीकाकरण हुआ है। युवाओं का टीकाकरण स्कूलों में किया जा रहा है। इसके अलावा 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों, फ्रंटलाइन वर्कर और हेल्थ केयर वर्कर को 24,154 डोज लगायी गई हैं। जिसमें से तकरीबन 12 हजार लोगों को पहली डोज लगाई गई और 12 हजार लोगों को दूसरी डोज लगाई गई है।
विधायक आतिशी ने 13 मई को वैक्सीन की स्थिति के बारे में बताते हुए कहा कि अभी तक 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों, फ्रंटलाइन वर्कर और हेल्थ केयर वर्कर के लिए दिल्ली को कुल 43,20,490 डोज मिली है। जिसमें से अभी तक 40,29,800 लगाई जा चुकी हैं। ऐसे में आज सुबह 13 मई को हमारे पास 2,90,690 वैक्सीन की डोज उपलब्ध थीं। हेल्थ केयर वर्कर, फ्रंटलाइन वर्कर और 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के लिए तकरीबन 3 दिन की वैक्सीन मौजूद हैं। कोवैक्सीन की 3 दिन और कोवीशील्ड की 2 दिन की डोज उपलब्ध हैं।
विधायक आतिशी ने कहा कि 18 से 44 वर्ष तक के युवाओं के लिए अभी तक कुल 8,17,690 वैक्सीन मिली हैं, जिनमें से 4,27,280 लगाई जा चुकी हैं और 3,90,410 डोज बची हैं। यह सिर्फ कोवीशील्ड वैक्सीन का स्टॉक बचा है और कोवैक्सीन खत्म हो गई है। कुछ वैक्सीनेशन केंद्रों पर हजार के आसपास कोवैक्सीन की डोज मौजूद हैं। तकरीबन अब हर सेंटर पर कोवैक्सिन खत्म हो चुकी है। कोवैक्सीन के केंद्र जिन स्कूलों में चल रहे थे उनको भी अस्थाई तौर पर बंद कर दिया गया है। क्योंकि कोवैक्सीन का कोई भी स्टॉक मौजूद नहीं है।
उन्होंने कहा कि उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया जी ने कल बताया था कि भारत बायोटेक ने भी अभी कोवैक्सीन की और आपूर्ति देने से मना कर दिया है। इसलिए जिन केंद्रों पर कोवैक्सीन की वैक्सीन लग रही थी वो अभी आगामी आदेश तक बंद रहेंगे।
विधायक आतिशी ने कहा कि वैक्सीन का जो स्टॉक हमारे पास है और जिस स्पीड से दिल्ली में वैक्सीनेशन कर रहे हैं, उस हिसाब से 18 से 44 वर्ष तक की उम्र के लिए अभी 8 दिन का कोवीशील्ड का स्टॉक मौजूद है। कोवैक्सीन का स्टॉक खत्म हो चुका है। ऐसे में 8 दिन तक कोवीशील्ड की वैक्सीन 96 स्कूलों की 350 साइट पर लगायी जाएगी।
कोवैक्सीन की सभी साइट बंद हो चुकी हैं। केंद्र सरकार से अनुरोध है कि वह जल्द से जल्द दिल्ली के लोगों को वैक्सीन उपलब्ध कराएं। अब दोनों श्रेणी चाहे 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों का वैक्सीनेशन है या 18 से 44 वर्ष तक के युवाओं का वैक्सीनेशन है, दिल्ली के पास बहुत ही कम स्टॉक बचा है। उन्होंने कहा कि यह इसलिए भी ज्यादा चिंता का मुद्दा है क्योंकि अगर 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के लिए वैक्सीन की आपूर्ति नहीं आती है तो बहुत सारे ऐसे लोग हैं जिनको वैक्सीन की पहली डोज मिल चुकी है और अब जल्द ही वैक्सीन की दूसरी डोज लगनी है। अगर दूसरी डोज सही समय पर नहीं मिली तो पहली डोज का भी कोई फायदा नहीं होगा। एक बार फिर हमारा केंद्र सरकार से आग्रह है कि दिल्ली के लोगों को जल्द से जल्द वैक्सीन उपलब्ध कराएं।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here