गरीबों की बिजली काटने पर सड़कों पर आंदोलन करेगी सपा: सुनील चौधरी

नोएडा(शमशाद रज़ा अंसारी)
बिजली निगम की ओर से अभियान चला विद्युत बकायेदारों के कनेक्शन काटे जा रहे हैं। इस अभियान से न सिर्फ आम जनता बिजली के बगैर रहने को मजबूर है बल्कि कई गरीब घरों में अंधेरा भी है। इसलिए समाजवादी पार्टी (सपा) इस मुद्दे को उठाकर अभियान चलाएगी। गरीबों की बिजली काटने के खिलाफ व बिजली बिल की माफी को लेकर आंदोलन चलाया जाएगा। यह बातें समाजवादी पार्टी (सपा) के वरिष्ठ नेता व निर्वतमान प्रत्याशी सुनील चौधरी ने कहीं।
उन्होंने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर की अति तीव्रता से तमाम लोगों ने अपने परिजनों को खोया है, जो अपूर्णीय क्षति है। ऐसे लोगों के परिजनों के प्रति गहरी शोक संवेदना व्यक्त करता हूँ। कोरोना की दूसरी लहर में आर्थिक रूप से भी लोगों के सामने बड़ा संकट खड़ा हो गया है। लॉकडाउन में लोगों का धंधा-पानी बंद है और वह बहुत कष्ट में हैं। कोरोना की दूसरी लहर ने प्रदेश में लाखों गरीब मजदूरों की रोजी-रोटी छीन ली, जिससे उनके सामने आर्थिक संकट खड़ा हो गया है। कोरोना महामारी के रोकथाम के लिए लॉकडाउन होने के साथ ऐसे लाखों मजदूरों की मुश्किल बढ़ गई, जो दिन-रात मेहनत, मजदूरी कर परिवार का पेट पालते हैं। इसमें सड़कों व ठेलों पर सामान रखकर बेचने वाले हजारों गरीब भी शामिल हैं। इसलिए कोरोना काल में गरीबों को राहत देने के लिए शहरी क्षेत्र में दैनिक रूप से ठेला, खोमचा, रेहड़ी आदि लगाने वाले दुकानदारों, दिहाड़ी मजदूरों एवं ग्रामीण क्षेत्रों में गरीबों, दिहाड़ी मजदूरों, किसानों को अप्रैल 2021 से अगस्त 2021 तक के लिए बिजली के बिल माफ किए जायें। क्योंकि कई उपभोक्ता ऐसे है जो काम बंद होने के चलते बिजली का बिल नहीं जमा कर पाए हैं। बिजली विभाग ऐसे लोगों के घरों का कनेक्शन काट रहा है। जबकि सरकारी कार्यालय, बिल्डर और बड़ी बड़ी कंपनी के ऊपर विभाग मेहरबान है। ऐसे लोगों को रियायत दी जा रही है। इसलिए सरकार गरीबों के लिए आर्थिक पैकेज दे और बिजली के बिल माफ करें। ऐसा नहीं करने सपा सड़क पर उतरकर आंदोलन करेंगी। बिजली बिल की माफी को लेकर डीएम, मुख्य अभियंता, सिटी मजिस्ट्रेट के माध्यम से ऊर्जा मंत्री, मुख्यमंत्री और राज्यपाल को पत्र भेजा जाएगा।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here