विद्युत मजदूर संगठन एवं विद्युत संविदा मजदूर संगठन ने किया बैंक कर्मियों की हड़ताल का समर्थन

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

ग़ाज़ियाबाद
बैंक एवं बीमा कर्मियों की दो दिवसीय हड़ताल का उत्तर प्रदेश विद्युत मजदूर संगठन एवं विद्युत संविदा मजदूर संगठन ने भी समर्थन किया है।
मंगलवार को ग़ाज़ियाबाद नया बस अड्डा स्थित 33/11 केवी सब स्टेशन पर विद्युत मजदूर संगठन के जिलाध्यक्ष जितेंद्र सिंह राणा की अध्यक्षता में एक बैठक का आयोजन किया गया।
बैठक में बोलते हुये जितेंद्र राणा ने कहा कि बैंक/बीमा कर्मियों की माँगें जायज़ है। इनकी माँगों का विद्युत मजदूर संगठन एवं विद्युत संविदा मजदूर संगठन को भी समर्थन करना चाहिए। बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि संगठन भी इन माँगों को लेकर की जा रही हड़ताल का समर्थन करता है।

बैठक में विद्युत संविदा मजदूर संगठन जिलाध्यक्ष शमशाद अली, मंडल उपाध्यक्ष शिवकुमार, क्षेत्रीय अध्यक्ष फईम अल्वारी के अलावा हरिओम, साजिद, पूरण सिंह, संजय, दौलत, अमीरुद्दीन,कदीर, इस्लाम, मईनुद्दीन एवं अन्य पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

बता दें कि बैंकों के निजीकरण के विरोध में बैंककर्मियों ने दो दिन की हड़ताल की है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पिछले महीने पेश किए बजट में ऐलान किया था कि सरकार विनिवेश की योजना के तहत सार्वजनिक क्षेत्र के दो बैंकों का निजीकरण करेगी। अभी तक इन बैंकों के नाम का ऐलान नहीं किया गया है।सरकार पहले ही आईडीबीआई बैंक के अधिकांश शेयर एलआईसी को बेचकर इसका निजीकरण कर चुकी है। इसके अलावा बीते चार सालों में सरकार ने निजी क्षेत्र के 14 बैंकों का विलय किया है।
बैंक यूनियनों के अलावा चार जनरल इंश्योरेंस कंपनियों की सभी यूनियनों ने 17 मार्च को हड़ताल बुलाई है। वहीं एलआईसी की सभी यूनियनें 18 मार्च को हड़ताल करेंगे। ये भी सरकारी कंंपनियों के निजीकरण का विरोध कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here