प्रयागराज (यूपी) : हिंदू देवी देवताओं को लेकर की गई टिप्पणी को लेकर इंदौर जेल में बंद कॉमेडियन मुनव्वर फारूकी की मुश्किलें बढ़ सकती हैं.

एक साल पुराने मामले में प्रयागराज पुलिस ने मुनव्वर फारूकी के खिलाफ प्रोडक्शन वारंट जारी किया है, प्रयागराज पुलिस ने प्रोडक्शन वारंट इंदौर सीजेएम कोर्ट और सेंट्रल जेल में तामील कराया है.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

प्रयागराज के जॉर्ज टाउन थाने में 19 अप्रैल 2020 को मुनव्वर फारुकी के खिलाफ एफआईआर दर्ज हुई थी, आशुतोष मिश्रा नाम के युवक ने यह एफआईआर दर्ज कराई है.

19 अप्रैल 2020 को मुनव्वर फारूकी के खिलाफ धार्मिक भावनाएं भड़काने के आरोप में एक मामला दर्ज किया गया था.

फारूकी ने यूट्यूब पर एक विवादित वीडियो अपलोड किया था, वीडियो में हिंदू देवी-देवताओं और गोधरा ट्रेन कांड में जलकर मरने वाले हिंदुओं का मजाक उड़ाया गया था.

साथ ही गुजरात में हुए दंगे में आरएसएस और अमित शाह की भूमिका को लेकर भी सवाल उठाया गया था, वर्तमान में इस मामले की जांच क्राइम ब्रांच कर रही है.

ये है पूरा मामला

गौरतलब हो कि फारूकी और चार अन्य स्टैंडअप कॉमेडियन को 1 जनवरी को इंदौर में नए साल के एक कार्यक्रम में हिंदू देवताओं का अपमान करने और कोविड-19 प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था.

इसके बाद फारूकी ने जमानत के लिए कोर्ट में अर्जी दी थी, लेकिन उनकी जमानत याचिका ख़ारिज कर दी गई थी.

जमानत ख़ारिज होने के बाद फारुकी ने मध्य प्रदेश HC ने में अर्जी दी, जिसके बाद कोर्ट ने 15 जनवरी को फारूकी की जमानत पर सुनवाई अगले सप्ताह तक के लिए स्थगित कर दी थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here