Urdu

Epaper Urdu

YouTube

Facebook

Twitter

Mobile App

Home भारत MDH ग्रुप के मालिक महाशय धर्मपाल गुलाटी का 98 साल की उम्र...

MDH ग्रुप के मालिक महाशय धर्मपाल गुलाटी का 98 साल की उम्र में निधन

नई दिल्ली : मसाला किंग के नाम से मशहूर एमडीएच के मालिक महाशय धर्मपाल गुलाटी का आज सुबह निधन हो गया, वह 98 साल के थे, बताया जा रहा है कि धर्मपाल गुलाटी ने दिल्ली के माता चंदन देवी हॉस्पिटल में 3 दिसंबर को सुबह 6 बजे आखिरी सांस ली.

धर्मपाल गुलाटी का जन्म 27 मार्च 1923 में पाक के सियालकोट में हुआ था और यहीं से उनके मसाले के कारोबार की नींव पड़ी थी.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

कंपनी की शुरुआत शहर में एक छोटे से दुकान से हुई, जिसे उनके पिता ने विभाजन से पहले शुरू किया थ, हालांकि, 1947 में देश के विभाजन के समय उनका परिवार दिल्ली आ गया था.

कारोबार और फूड प्रोसेसिंग में योगदान के लिए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पिछले साल महाशय धर्मपाल को पद्मविभूषण से सम्मानित किया था.

महाशय धर्मपाल गुलाटी के निधन पर दिल्ली के CM केजरीवाल और मनीष सिसौदिया ने भी ट्ववीट किया, सिसौदिया ने कहा कि वह एक प्रेरणा देने वाले कारोबारी थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

कांग्रेस नेता ललन कुमार का तंज ‘नड्डा ने यूपी के लॉ एंड आर्डर की तारीफ की मगर ‘हाथरस और बदायूँ” भूल गए’

लखनऊः भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने अपने लखनऊ दौरे पर कार्यकर्ताओं को दिए गए संबोधन में उत्तर...

ट्रैक्टर-ट्रालियों के जत्थों के साथ किसान दिल्ली रवाना

हिसारः  कृषि सम्बंधी तीन काले कानूनों को रद्द करवाने की मांग को लेकर पिछले दो माह से चल रहे आंदोलन के तहत...

छठवां चौरी-चौरा इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल 2-4 फरवरी 2021 को

गोरखपुर: चौरी चौरा विद्रोह का शताब्दी वर्ष शुरू होने के साथ ही चौरी चौरा इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल का छठवां संस्करण राजधानी गांव से...

असम में बोले अमित शाह ‘कांग्रेस और बदरुद्दीन अजमल असम में घुसपैठियों के लिये दरवाज़े खोल देंगे’

नई दिल्लीः भारतीय जनता पार्टी के चोटी के नेता और देश के गृहमंत्री अमित शाह ने आज एक रैली में कहा कि...

नेहरू और सुभाषः याद करेगी दुनिया, तेरा मेरा अफसाना….

मनीष सिंह ये लाइन फिल्मी जरूर है, मगर सुभाष और नेहरू का अफसाना किसी फ़िल्म की कथा से कम...