नई दिल्ली: राजस्थान में कांग्रेस की सरकार पर सियासी संकट मंडरा रहा है और ये दो गुटों में बंट गई है, सूत्रों के मुताबिक, सचिन पायलट इस बार आर-पार के मूड में हैं, सूत्रों का कहना है कि सचिन पायलट गुट के 41 विधायक बीजेपी के संपर्क में हैं, कांग्रेस के 38 और तीन निर्दलीय विधायक सचिन पायलट के साथ हैं, इन विधायकों ने कहा है कि चाहे कोई भी स्थिति हो वो पायलट का साथ देंगे, वहीं मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के आवास पर कल सुबह 10:30 बजे कांग्रेस विधायक दल की बैठक होगी, वहीं आज रात नौ बजे भी सीएम गहलोत ने एक बैठक बुलाई है, रणदीप सुरजेवाला और अजय माकन आलाकमान के निर्देश पर जयपुर पहुंचे हैं और ये दोनों इस आज की बैठक का हिस्सा होंगे,


सचिन पायलट के करीबी सूत्रों ने कहा कि अपनी ही सरकार को अस्थिर करने की कथित कोशिश की जांच में पूछताछ के लिये पेश होने का उप मुख्यमंत्री को पत्र भेजे जाने से सारी हदें पार हो गई हैं, इससे पायलट समर्थक विधायकों का मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के तहत काम करना मुश्किल हो गया है, उधर राजस्थान कांग्रेस के इंचार्ज अविनाश पांडे ने कहा कि कांग्रेस मजबूती से साथ काम कर रही है, सभी विधायकों का पार्टी और सीएम अशोक गहलोत पर भरोसा और विश्वास है, बीजेपी जानबूझकर वर्तमान स्थिति को बदल रही है, इसके साथ ही उन्होंने कहा, ‘’यह साजिश बीजेपी ने रची है और वे एक साल से यह कोशिश कर रहे हैं, मैं कह सकता हूं कि राजस्थान के सभी कांग्रेस विधायक एक साथ काम करेंगे और राजस्थान में कांग्रेस सरकार अपने पांच साल के कार्यकाल को पूरा करेगी,’’ उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को राजस्थान के घटनाक्रम से अवगत कराया गया है,

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App


इससे पहले रविवार को राज्य के कई मंत्रियों और विधायकों ने मुख्यमंत्री के निवास पर पहुंच कर उनसे मुलाकात की और परिस्थिति पर चर्चा की, बता दें कि राज्य के सीएम गहलोत ने बीजेपी पर आरोप लगाया था कि वह उनकी सरकार को गिराने की कोशिश में लगी है, हालांकि, बीजेपी नेताओं ने आरोपों का खंडन किया, बीजेपी ने कहा कि ये स्थिति कांग्रेस पार्टी की अंदरूनी लड़ाई का परिणाम है, राजस्थान विधानसभा में 200 सीटें हैं, बहुमत के लिए 101 सीटों की जरूरत है, कांग्रेस के पास 107 विधायक हैं, बीजेपी के पास 72 और अन्य के पास 21 विधायक हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here