नई दिल्ली : भारतीय क्रिकेट टीम ने इंग्लैंड को हराकर वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में जगह बना ली है जो कि 18 जून को इंग्लैंड में होना है, हालांकि इस दौरान श्रीलंका में एशिया कप का भी आयोजन होगा.

ऐसे में सवाल ये है कि आखिर टीम इंडिया कैसे इन दोनों प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेगी, अब बीसीसीआई ने इसका हल निकाल लिया है, बीसीसीआई श्रीलंका में आयोजित होने वाले एशिया कप में दूसरे दर्जे की टीम भेजेगी.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

बीसीसीआई एशिया कप में हिस्सा लेने के लिए दूसरे दर्जे की टीम भेजेगी, टीम का कार्यक्रम बेहद व्यस्त है और उसे इंग्लैंड में ही पांच टेस्ट मैचों की सीरीज खेलनी है.

इंग्लैंड में वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के बाद भारतीय टीम वहीं रहेगी और इस दौरान दूसरे दर्जे की टीम श्रीलंका में एशिया कप में हिस्सा ले सकती है.

बीसीसीआई के पास दूसरे दर्जे की टीम भेजने के अलावा कोई विकल्प नहीं है क्योंकि बोर्ड इंग्लैंड सीरीज की तैयारियों में कोई जोखिम नहीं लेना चाहता, बीसीसीआई नहीं चाहता कि क्रिकेटर दो बार क्वारंटीन में रहें, अगर एशिया कप का आयोजन होता है तो बीसीसीआई दूसरे दर्जे की टीम ही भेजेगी.

दूसरे दर्जे की टीम होने का मतलब ये है कि एशिया कप में खेलने वाली टीम में विराट कोहली, रोहित शर्मा ऋषभ पंत, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी जैसे खिलाड़ी नहीं होंगे, हालांकि भारतीय टीम की बेंच स्ट्रेंथ बेहद मजबूत है और उसके पास ऐसे खिलाड़ियों का पूल है जो एशिया कप में बेहतरीन प्रदर्शन कर सकते हैं.

बता दें भारत ने पिछले दो एशिया कप अपने नाम किये हैं, साल 2016 और 2018 में टीम इंडिया ने एशिया कप जीता था, इस बार उसके पास एशिया कप जीतने की हैट्रिक लगाने का भी मौका है, आपको बता दें भारत ने सबसे ज्यादा 7 बार एशिया कप अपने नाम किये हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here