मेलबोर्नः ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग ने भारत के खिलाफ मिली हार के बाद कहा है कि टीम की ऐसी हार हैरान करने वाली है क्योंकि ऑस्ट्रेलिया के पास टीम में सभी अनुभवी खिलाड़ी मौजूद थे और वह सीरीज में पूरे दम के साथ उतरी थी जबकि टीम इंडिया को कई चुनौतियों का सामना करना पड़ा था। भारत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चार मैचों की टेस्ट सीरीज 2-1 से अपने नाम की। भारत ने ऑस्ट्रेलिया को उसके घर में हराया और बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी पर अपना कब्जा बरकरार रखा। टीम इंडिया इस सीरीज में अपने नियमित कप्तान विराट कोहली के बिना खेली थी जो पहले टेस्ट के बाद अपने पहले बच्चे के जन्म के कारण स्वदेश लौट गए थे।

टीम इंडिया 20 सदस्यों के साथ ऑस्ट्रेलिया दौरे पर गयी थी लेकिन एक के बाद एक उसके कई खिलाड़ी चोटिल होने के कारण सीरीज से बाहर हो गए थे। इसके अलावा तीसरे और चौथे टेस्ट में मोहम्मद सिराज पर नस्लीय टिप्पणी की गयी लेकिन भारतीय टीम ने अपने शानदार प्रदर्शन से कंगारु टीम को हर मोर्च पर जवाब दिया। पोंटिंग ने कहा, “मैं काफी हैरान हूं कि ऑस्ट्रेलिया इस सीरीज में बेहतर प्रदर्शन नहीं कर सकी। भारतीय टीम पिछले पांच-छह सप्ताह में कई चुनौतियों से गुजरी है। उनके नियमित कप्तान विराट पहले टेस्ट के बाद स्वदेश लौट गए। इसके बाद टीम के कई खिलाड़ी चोटिल हो गए। लेकिन ऑस्ट्रेलिया के पास सभी बेहतरीन खिलाड़ी मौजूद थे और बाद में डेविड वार्नर भी टीम से जुड़ गए, इसलिए इस हार को पचा पाना मुश्किल है।”

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

उन्होंने कहा, “भारत ने काफी अच्छा खेल का प्रदर्शन किया। उन्होंने मेहनत की और हर दिन मैच में पकड़ बनायी तथा सीरीज के सभी बड़े क्षण को जीता। दोनों टीमों के बीच यह अंतर है। भारत ने टेस्ट मैच के सभी बड़े पलों को जीता लेकिन ऑस्ट्रेलिया ऐसा करने में नाकाम रही।” पोंटिंग ने कहा, “वाशिंगटन सुंदर ऐसे लग रहे थे कि वह 50 टेस्ट मैच खेल चुके हैं जबकि शार्दुल ठाकुर भी ऐसे ही लग रहे थे। उन्होंने अपने दूसरे मैच में सात विकेट लिए और पहली पारी में 60 रन बनाए। आईपीएल में मैं लंबे समय से इन खिलाड़ियों को देख रहा हूं और मुझे पता है कि भारत में कौशल है। लेकिन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज खेलना अलग कहानी है। हालांकि टीम इंडिया के खिलाड़ियों ने बेहतरीन प्रदर्शन किया। इंडिया सीरीज जीत की हकदार है।”

उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि पिछली सीरीज में मुझे ऑस्ट्रेलिया को संदेह का लाभ देना होगा क्योंकि उस वक्त वार्नर और स्टीवन स्मिथ टीम में नहीं थे। लेकिन इस बार ऑस्ट्रेलिया के पास सभी अनुभवी और बेहतरीन खिलाड़ी थे और भारतीय टीम को कई चुनौतियों से पार पाना। उन्होंने नेट गेंदबाजों को टेस्ट मैच में खेलाया इसके बावजूद टीम इंडिया ने जीत हासिल की। यह हैरान करने वाला है और ऑस्ट्रेलिया के लिए चिंताजनक है।”

ऑस्ट्रेलिया को अब दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 14 फरवरी से तीन टेस्ट मैचों की सीरीज खेलनी है और पोंटिंग का मानना है कि कंगारु टीम को भारत के खिलाफ मिली हार से घबराने की जरुरत नहीं है बल्कि उसे अपने खेल पर ध्यान केंद्रित करना होगा। पोंटिंग ने कहा, “ऑस्ट्रेलिया दुनिया की शीर्ष टीम है और टीम ने हाल ही में काफी सही चीजें भी की है। कंगारु टीम को घबराने की जरुरत नहीं लेकिन उसे बेहतर क्रिकेट खेलने के लिए रास्ता तलाशने की जरुरत है। कोच जस्टिन लेंगर टीम के मजबूत स्तंब हैं।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here