Urdu

Epaper Urdu

YouTube

Facebook

Twitter

Mobile App

Home बिहार CM नीतीश का तेजस्वी यादव पर पलटवार, कहा- "लॉकडाउन में दिल्ली में...

CM नीतीश का तेजस्वी यादव पर पलटवार, कहा- “लॉकडाउन में दिल्ली में किसके यहां रहते थे ?”

पटना (बिहार) : बिहार चुनाव को लेकर CM नीतीश कुमार और RJD के नेता तेजस्वी यादव में वार-पलटवार का दौर चल रहा है, तेजस्वी यादव ने कहा कि CM नीतीश थक चुके हैं, उन्होंने बिहार के लिए कुछ नहीं किया, बिहार में अब तक एक कारखाना नहीं लगा पाए, इस पर अब नीतीश कुमार ने तेजस्वी पर पलटवार किया है, चुनावी दौरे पर गुरुवार को मुजफ्फरपुर पहुंचे नीतीश कुमार ने कहा कि वह कोरोना लॉकडाउन के दौरान कहां थे? कहां भाग गए थे? उस दौरान कहां भागे रहते थे? दिल्ली में किसके यहां रहते थे, कोई नहीं जानता है, सबको बताइए, कहीं किसी को मालूम है कि किसके यहां रहते थे?

तेजस्वी का नाम लिए बगैर नीतीश ने कहा कि कोई माता-पिता की जगह लेने का कोशिश कर रहा है, ये क्या करेंगे, कल मौका मिला तो था, क्या किया? किस चीज का ज्ञान है? किस चीज का अनुभव है? और हम लोगों ने चाहे मोदी सरकार में रहकर काम किया और जब यहां आप लोगों ने मौका दिया तो यहां काम कर रहे हैं, नीतीश ने कहा कि हमने अपराध पर नियंत्रण कर कानून का राज स्थापित किया, सर्वांगीण विकास कर सड़क-बिजली, किसानों के खेत तक पानी की व्यवस्था कराई, अपराध पर नियंत्रण किया, यहां जंगल राज था, उसे खत्म कर 
कानून का राज कायम किया, विकास होने लगा, हम क्या थक गए हैं?

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

नीतीश ने तेजस्वी से पूछा कि वह दिल्ली में किस जगह रह रहे थे, यह भी जरा हमें बताएं? कहां भाग गए थे? अपने माता-पिता की जगह लेना चाह रहे हैं, उन्हें किस चीज का ज्ञान और अनुभव है? नीतीश ने कहा कि बिहार का विकास का दर पहले बहुत बेहतर हो गया है, बिहार का विकास दर 12,8 है, एनडीए के शासन काल मे बिहार में महिलाओं को सम्मान मिलने लगा, 15 साल इन्होंने क्या किया जो मैंने 10 सालों में करके दिखाया, कह रहे हैं कि बेरोजगारी है और बेरोजगारों को नौकरी देंगे. 

CM ने कहा कि माता-पिता ने संयुक्त बिहार-झारखंड में सरकार में रहने के दौरान क्या किया? इनकी सरकार ने सिवाय अपने विकास के कुछ नहीं किया, बेटा-बेटी, घर-परिवार का विवास किया, 5 साल झारखंड को अलग होने के बाद भी इनकी सरकार थी, तब भी कुछ नहीं किया, इनकी पार्टी के 15 साल के शासन में एक लाख से भी कुछ कम ही रोजगार मिला था, नीतीश ने दावा किया कि हमारी सरकार में कितने शिक्षकों की बहाली की गई, छह लाख से अधिक रोजगार दिया.

ब्यूरो रिपोर्ट, पटना 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

किसान आंदोलन को भीम आर्मी का समर्थन, चंद्रशेखर बोले ‘जब सरकार तानाशाह बन जाए तब लोगों को सड़क पर…’

नई दिल्लीः किसान आंदोलन को आज़ाद समाज पार्टी के सुप्रीमो एंव भीम आर्मी के संस्थापक चंद्रशेखर आज़ाद का साथ भी मिल गया...

2024 का चुनाव लड़ेंगे ट्रंप ! बोले- ‘मिलते हैं 4 साल के बाद’

नई दिल्ली : अमेरिका में हुए राष्ट्रपति चुनावों में जो बाइडेन से हार का सामना करने के बाद डोनाल्ड ट्रंप व्हाइट हाउस...

LPL 2020 : टूर्नामेंट से अचानक PAK लौटे अफरीदी, बताई ये वजह

नई दिल्ली : शाहिद अफरीदी एक हफ्ते बाद ही लंका प्रीमियर लीग छोड़ कर वापस पाक लौट गए हैं, अफरीदी ने कहा...

वरिष्ठ पत्रकार और देशबंधु के प्रधान संपादक ललित सुरजन का 74 साल की उम्र में निधन

नई दिल्ली : छत्तीसगढ़ के वरिष्ठ पत्रकार ललित सुरजन का 74 वर्ष की आयु में निधन हो गया है, ललित सुरजन के...

MDH ग्रुप के मालिक महाशय धर्मपाल गुलाटी का 98 साल की उम्र में निधन

नई दिल्ली : मसाला किंग के नाम से मशहूर एमडीएच के मालिक महाशय धर्मपाल गुलाटी का आज सुबह निधन हो गया, वह...