नई दिल्ली : दिल्ली में कोविड-19 के बढ़ते मामले परेशानी का सबब बनते जा रहे हैं, दिल्ली में एक दिन में 4 हजार से ज्यादा कोविड-19 संक्रमण के मामले सामने आए हैं.

केजरीवाल सरकार के स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी ताजा आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में कोविड-19 संक्रमण के 4,006 नए मामले सामने आए हैं, तो वहीं 6 लोगों की मौत इस संक्रमण की वजह से हो गई है, इन सबके बीच राहत भरी बात ये है कि कोविड-19 को मात देने में 5,036 लोगों ने सफलता हासिल कर ली है.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी ताजा आंकड़ों के मुताबिक, नए मामले सामने आने के बाद अब दिल्ली में कोविड-19 के कुल मामले बढ़कर 5,74,380 हो गए हैं.

अब तक 5,33,351 लोगों कोविड-19 से रिकवर कर गए हैं, तो वहीं 9,260 लोगों की मौत हो गई है, नए मामले सामने आने के बाद अब दिल्ली में कोविड-19 के एक्टिव केस बढ़कर 31,769 हो गए हैं.

सीएम केजरीवाल ने बड़ा फैसला किया है, अब दिल्ली में कोविड-19 का आरटी-पीसीआर टेस्ट सस्ता हो गया है, अभी तक दिल्ली में इस टेस्ट के लिए 24 सौ रुपये लिए जा रहे थे.

लेकिन सरकार के इस फैसले के बाद टेस्ट के दाम में दो तिहाई की कटौती कर दी गई है, अब अगर कोई भी कोरोना का आरटी-पीसीआर टेस्ट कराने जाएगा तो उसे सिर्फ 800 रुपये देने होंगे.

ध्यान दिला दें कि दिल्ली में किए गए सीरो सर्वे के चौथे चरण की रिपोर्ट के मुताबिक, दिल्ली में नवंबर महीने में कोविड-19 की रफ्तार तेजी से बढ़ रही है, इस रिपोर्ट को न्यायमूर्ति हिमा कोहली और सुब्रमणियम प्रसाद के पीठ के समक्ष रखा गया.

सीरो सर्वे की हालिया रिपोर्ट के मुताबिक कोविड-19 की जांच में 25 प्रतिशत लोगों के शरीर में कोविड-19 एंटी बॉडी पाए गए हैं.

इस बीच हाईकोर्ट ने दिल्ली के 33 प्राइवेट अस्पतालों के 80 फीसदी आईसीयू बेड कोविड-19 वायरस मरीजों के लिए रिजर्व करने का बड़ा आदेश दे दिया है.

दिल्ली उच्च न्यायालय के खंडपीठ ने कोविड-19 संक्रमण के रोगियों के लिए निजी अस्पतालों के 80% ICU बेड आरक्षित करने के केजरीवाल सरकार के निर्णय पर अंतरिम रोक के एकल-न्यायाधीश पीठ के आदेश को हटा दिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here