नई दिल्ली : आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता दुर्गेश पाठक ने कहा कि भाजपा शासित एमसीडी टैक्स में कई तरह से वृद्धि कर व्यापारियों का मनोबल तोड़ने की कोशिश कर रही है, जो दिल्ली के करीब 20 से 25 हजार व्यापारियों और ट्रेडर्स को प्रभावित करेगा। भाजपा शासित एसडीएमसी ने किराए पर ली गई वाणिज्यिक और औद्योगिक भवन पर 100 प्रतिशत टैक्स बढ़ा दिया है, खाली व्यवसायिक भवनों पर टैक्स में 50 प्रतिशत और खाली भूमि पर 66 प्रतिशत की वृद्धि कर दिया है। दुर्गेश पाठक ने कहा कि भाजपा शासित एसडीएमसी ने बैंक्वेट हॉल, मैरिज हॉल, होटल और गेस्ट हाउस पर 25 प्रतिशत टैक्स वृद्धि की है और एसडीएमसी ने भी स्कूलों पर 200 प्रतिशत से अधिक टैक्स बढ़ाया है। एसडीएमसी ने टेलीकॉम टावरों के लिए 200 प्रतिशत, क्लबों और मनोरंजन टाॅवरों के लिए 36 प्रतिशत टैक्स बढ़ाया है। उन्होंने कहा कि कोरोना के समय में भाजपा द्वारा किया गया यह कृत्य अमानवीय है और भाजपा अपने भ्रष्टाचार को छिपाने के लिए लोगों पर टैक्स में वृद्धि कर रही है। अपने भ्रष्टाचार के कारण भाजपा शासित एमसीडी अपने कर्मचारियों को वेतन नहीं दे पा रही है।

आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता दुर्गेश पाठक ने एमसीडी द्वारा टैक्स में बढ़ोतरी को लेकर भाजपा पर हमला बोला। पार्टी मुख्यालय में मंगलवार को हुई प्रेस कांफ्रेंस में दुर्गेश पाठक ने कहा कि पिछले 14 सालों से भाजपा के एमसीडी में भ्रष्टाचार और अक्षमता के कारण पूरी एमसीडी का दिवालापन निकल चुका है। उस दिवालेपन की भरपाई भाजपा के नेता इस कोरोना काल में आपदा को अवसर में बदल कर कर रहे हैं। आज भाजपा की एमसीडी के अंदर किसी भी कर्मचारी, कोरोना से लड़ रहे डॉक्टर, नर्स, शिक्षकों, सफाई कर्मचारियों और डेटा ऑपरेटरों सहित अन्य किसी को भी वेतन नहीं मिल रहा है। इसका एक ही कारण है और वो है भाजाप नेताओं का भ्रष्टाचार।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

उन्होंने आगे कहा कि इस पूरी परिस्थिति का फायदा उठाने और भरपाई करने के लिए भाजपा शासित एमसीडी दिल्ली की जनता का खून चूंसने का काम कर रही है। हर 15-20 दिनों में वो टैक्स बढ़ाने का काम कर रहे हैं। साउथ एमसीडी में उन्होंने टैक्स बढ़ाया, ईस्ट और नॉर्थ एमसीडी के अंदर टैक्स बढ़ाने की कोशिश कर रहे हैं। आज साउथ एमसीडी के अंदर एक ऐसा नोटिफिकेशन जारी किया गया है जिसके द्वारा इस कोरोना काल के अंदर दिल्ली के बिजनेसमैन और अन्य लोगों का मनोबल, उनकी कमर तोड़ने का प्रयास किया जा रहा है। भाजपा के नेता चोर दरवाजे से साउथ एमसीडी की जनता के ऊपर टैक्स ला रहे हैं, जिसके तहत लगभग 20 से 25 हजार बिजनेसमैन लोग प्रभावित होंगे।

दुर्गेश पाठक ने आगे कहा कि बहुत सारे टैक्सों को बढ़ाने का प्रस्ताव भाजपा की एमसीडी ने पास कर दिया है। जितनी भी वाणिज्यिक औद्योगिक बिल्डिंग हैं, जो किराए पर हैं, उनपर लगभग 100 फीसदी टैक्स बढ़ा दिया गया है। वाणिज्यिक औद्योगिक बिल्डिंग, जो खाली पड़ी हैं उनका टैक्स एमसीडी ने 50 फीसदी बढ़ा दिया है। खाली पड़ी जमीन और फॉर्म हाउस पर 67 फीसदी टैक्स बढ़ा दिया है। शादी घर, बारात घर, होटल और गेस्ट हाउस पर 25 फीसदी टैक्स बढ़ा दिया है। स्कूल और शिक्षण संस्थानों पर 200 फीसदी टैक्स बढ़ा दिया है। साउथ एमसीडी के अंदर आने वाले टेलीकॉम टॉवरों पर 200 फीसदी टैक्स बढ़ा दिया गया है। मनोरंजन के सभी साधन जैसे क्लब आदि पर लगभग 36 प्रतिशत टैक्स बढ़ा दिया।

उन्होंने आगे कहा कि साउथ एमसीडी के अंदर आने वाले 20 से 25 हजार कमर्शियल यूनिटों पर भाजपा मनमाने तरीके से 100 प्रतिशत, 200 फीसदी, 50 फीसदी, 67 फीसदी और 25 फीसदी टैक्स बढ़ा रही है। कोई जगह ऐसी नहीं है जहां इन्होंने टैक्स न बढ़ाया हो। यह बड़े गुनाह और अमानवीयता का काम है। कोरोना काल महामारी में पिछले आठ महीनें में ठीक से लोगों की दुकानें नहीं खुली हैं, उनके काम खत्म हो गए, लोगों का दिवाला निकल गया है। ऐसे समय में अमानवीय तरीके से टैक्स बढ़ाना बहुत ही गलत और निंदनीय है। इससे भाजपा का असली चरित्र लोगों के सामने आ गया है। भाजपा जब 2017 में दिल्ली में एमसीडी में जीती थी, तो उनके मुखिया मनोज तिवारी ने कहा था कि हम न तो कोई टैक्स बढ़ाएंगे और न ही कोई नया टैक्स दिल्ली की जनता पर लगाएंगे। लेकिन आज आज उनकी पार्टी दिल्ली की जनता का खून चूंसने में लगी है।

दुर्गेश पाठक ने आगे कहा कि पिछले साल स्टैंडिंग कमेटी के सदस्य भूपेंद्र गुप्ता ने टैक्स बढ़ाने के सभी प्रस्ताव रद्द कर दिए थे। लेकिन आज भाजपा ने चोर दरवाजे से दिल्ली की जनता को लूटने का प्रयास शुरू कर दिया है। पिछले 14 सालों से भ्रष्टाचार और अक्षमता से जो परिस्थिति एमसीडी के अंदर पैदा हुई हैं उसकी भरपाई भाजपा दिल्ली की जनता का खून चूंसकर करना चाहती है। यह गलत है, आम आदमी पार्टी यह नहीं होने देगी, पार्टी इसे लेकर जनता के बीच जाएगी।

प्रेस कांफ्रेंस में मौजूद आप के साउथ एमसीडी के नेता विपक्ष प्रेम सिंह चैहान ने कहा कि मेयर अनामिका जी ने कुछ दिन पहले कहा था कि हम निगम को आत्मनिर्भर बनाना चाहते हैं। मैं उनको बताना चाहता हूं कि यह आत्मनिर्भर बनने का रास्ता नहीं है। हमने उनको पहले भी बोला था कि हम आपको आत्मनिर्भर बनने की क्लास दे सकते हैं। इस तरीके से तो दिल्ली की जनता का खून चूंसने का काम किया जा रहा है। भाजपा के नेता सिर्फ यह सोचते रहते हैं कि किस तरीके से दिल्ली की जनता को परेशान किया जाए।

रिपोर्ट सोर्स, पीटीआई

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here