नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता दुर्गेश पाठक ने कहा कि साउथ एमसीडी द्वारा तीन प्रकार के करों में की गई वृद्धि के विरोध में आम आदमी पार्टी के नेता और कार्यकर्ता कल भाजपा कार्यालय पर विरोध प्रदर्शन करेंगे। ‘‘आप’’ कार्यकर्ता सुबह 11 बजे भाजपा कार्यालय समेत पूरे दिल्ली में भाजपा नेताओं के कार्यालय जाकर उनसे मुलाकात कर सवाल पूछेंगे। दुर्गेश पाठक ने कहा कि जब भी भाजपा किसी मुश्किल में पड़ती है, तब कांग्रेस छोटे भाई की तरह आकर उसका हाथ थाम लेती है। सदन में मौन रहकर कांग्रेस ने अप्रत्यक्ष रूप से दिल्ली की गरीब जनता की पीठ में छुरा भोंकने का काम किया है।

पार्टी मुख्यालय में हुई एक प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता दुर्गेश पाठक ने बताया कि साउथ दिल्ली नगर निगम में भारतीय जनता पार्टी द्वारा जबरदस्ती जनता के ऊपर थोपे गए तीन प्रकार के अतिरिक्त कारों के विरोध में आम आदमी पार्टी कल सुबह 11ः00 बजे भाजपा कार्यालय पर विरोध प्रदर्शन करेगी। साथ ही पूरी दिल्ली में आम आदमी पार्टी के नेता और कार्यकर्ता भाजपा नेताओं के कार्यालय पर जाकर उनसे मिलेंगे और प्रश्न पूछेंगे कि इस महामारी के काल में जब सरकार की ओर से जनता को राहत दी जानी चाहिए, ऐसे में भाजपा शासित नगर निगम ने जनता को राहत देने के बजाय उल्टा उन पर तीन प्रकार के अतिरिक्त टैक्स का भार क्यों डाला? उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी इस बात के लिए संकल्पित है और जब तक इन करो के प्रस्ताव को वापस नहीं लिया जाता, सड़क से लेकर सदन तक आम आदमी पार्टी का एक एक कार्यकर्ता संघर्ष करता रहेगा।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

आश्चर्य की बात है कि सदन में कांग्रेस ने भाजपा के तीनों प्रस्तावों का समर्थन किया- दुर्गेश पाठक

उन्होंने बताया कि यह बेहद ही आश्चर्य की बात है कि भाजपा ने तो जबरदस्ती जनता के ऊपर यह तीन प्रकार के अतिरिक्त करों का भार थोपा ही, परंतु खुद को भाजपा का सबसे बड़ा प्रतिद्वंदी कहने वाली कांग्रेस पार्टी ने भी सदन में मौन रहकर भाजपा के इन तीनों प्रस्तावों का समर्थन किया। अर्थात अप्रत्यक्ष रूप से दिल्ली की गरीब जनता की पीठ में छुरा भोंकने का काम किया। उन्होंने कहा कि भाजपा और कांग्रेस की सांठगांठ इस बात से भी जाहिर होती है कि 2017 में जब दोबारा से नगर निगम में भाजपा की सरकार बनी, तब से लेकर आज तक कांग्रेस ने भाजपा की गलत नीतियों और भ्रष्टाचार के खिलाफ एक बार भी सड़क पर उतर कर कोई विरोध प्रदर्शन नहीं किया। जब जब भाजपा मुश्किल में पड़ती है और जब जब भाजपा को अपना भ्रष्टाचार छुपाना होता है, तब कांग्रेस छोटे भाई की तरह आकर भाजपा का हाथ थाम लेती है। उन्होंने कहा कि चाहे राजस्थान हो, कर्नाटक हो या मध्यप्रदेश हो, जहां भाजपा की सरकार नहीं बनती है, वहां कांग्रेस वाले अपने विधायक उनको बेचकर उनकी सरकार बनवा देते हैं।

कांग्रेस ने अंदर खाने भाजपा के साथ डील कर ली है- दुर्गेश पाठक

उन्होंने कहा कि आज जब दिल्ली में भाजपा शासित एमसीडी भ्रष्टाचार के चरम पर पहुंच चुकी है, तो उनका विरोध करने की बजाय कांग्रेस अंदर खाने भाजपा के साथ डील करके बैठ गई है। मीडिया के माध्यम से कांग्रेस पार्टी के नेताओं से प्रश्न पूछते हुए दुर्गेश पाठक ने कहा कि कांग्रेस जनता को बताएं कि भाजपा के भ्रष्टाचार में कांग्रेस का कितने प्रतिशत का हिस्सा है? उन्होंने कहा कि दिल्ली का बच्चा बच्चा जानता है कि नगर निगम भ्रष्टाचार का अड्डा है, परंतु फिर भी कांग्रेस के तमाम नेता भाजपा के भ्रष्टाचार पर चुप हैं। इसके पीछे कोई न कोई तो सांठगांठ है? कांग्रेस के लोग बताएं कितने करोड़ में बिके हैं कांग्रेस के नेता? क्यों नहीं भाजपा शासित एमसीडी के भ्रष्टाचार पर एक भी कांग्रेस का नेता आवाज उठाता है?

‘‘आप’’ सरकार दिल्ली निवासियों को राहत दे रही है, तो भाजपा आर्थिक बोझ डाल रही- विनय मिश्र

प्रेस वार्ता में मौजूद आम आदमी पार्टी के विधायक विनय मिश्रा ने कहा कि जहां आम आदमी पार्टी कोरोना महामारी के इस काल में गरीब जनता को खाना मुहैया कराकर, बिना राशन कार्ड वाले लोगों को भी मुफ्त राशन उपलब्ध करा कर उनकी मदद कर रही है, हजारों की संख्या में प्रवासी मजदूरों को उनके घर तक पहुंचाने का काम किया। गरीब ऑटो वालों के खाते में पांच-पांच हजार सहायता राशि के तौर पर डालें। बुजुर्गों विधवाओं की पेंशन दोगुना करके इस महामारी के समय में उनकी सहायता की, वही भारतीय जनता पार्टी दिल्ली की जनता को राहत पहुंचाने के बजाय तीन प्रकार के अतिरिक्त करों का आर्थिक भार दिल्ली की जनता के सिर पर डालने का काम कर रही है। यह कृत्य भारतीय जनता पार्टी के जनविरोधी चेहरे को उजागर करता है।

उन्होंने कहा कि जनता के सामने कांग्रेस कहती है की आम आदमी पार्टी भाजपा की बी टीम है और इसी प्रकार से भाजपा कहती है की आम आदमी पार्टी कांग्रेस की बी टीम है, परंतु यह बड़े ही चैंकाने वाली बात है कि जब कभी भी किसी जनविरोधी नीति का विरोध करने की बात होती है, तो भाजपा और कांग्रेस दोनों एक दूसरे का समर्थन करती हुई नजर आती हैं। केवल आम आदमी पार्टी ही एक ऐसी पार्टी है, जो जनता के खिलाफ होने वाले हर काम के विरोध में पुरजोर तरीके से आवाज उठाती है। उन्होंने कहा कि कल जब सदन में यह तीन प्रकार के अतिरिक्त करों का प्रस्ताव पेश किया गया, तो न तो भाजपा के निगम पार्षदों ने और न ही कांग्रेस के निगम पार्षदों ने इस प्रस्ताव का विरोध किया। सिर्फ आम आदमी पार्टी के निगम पार्षदों ने प्रस्ताव का विरोध किया। यह घटना इस बात को सत्यापित करती है कि कांग्रेस और भाजपा अंदर खाने सत्ता पर काबिज रहने के लिए मिली हुई है।

भाजपा-कांग्रेस मिल कर दिल्ली की जनता का खून चूसना चाहती हैं- प्रवीण देशमुख

प्रेस वार्ता में मौजूद आम आदमी पार्टी के एक और विधायक प्रवीण देशमुख ने कहा कि आम आदमी पार्टी पहले दिन से इस बात को कह रही है कि कांग्रेस और भाजपा के बीच पति पत्नी जैसा रिश्ता है। भारतीय जनता पार्टी का तरह-तरह के टैक्स जबरदस्ती दिल्ली की जनता के ऊपर थोपना और उसमें कांग्रेस का मौन रहना, इस बात का सबूत है कि यह दोनों ही पार्टियां मिलकर दिल्ली की जनता का खून चूसना चाहती हैं। बीते दिनों नगर निगम के सदन में हुई एक घटना का हवाला देते हुए प्रवीण देशमुख ने कहा कि स्टैंडिंग कमेटी के चुनाव में भी कांग्रेस और भाजपा के निगम पार्षदों ने एक साथ मिलकर आम आदमी पार्टी को हराने की कोशिश की थी और यह केवल इसीलिए किया गया, क्योंकि यह दोनों ही पार्टियां जानती हैं कि आम आदमी पार्टी और उसका एक एक नेता बेहद ही ईमानदार है और यदि आम आदमी पार्टी का कोई भी व्यक्ति किसी उच्च पद पर स्थापित हुआ, तो वह इनके मिले-जुले भ्रष्टाचार की गाड़ी को ब्रेक लगा देगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here