शमशाद रज़ा अंसारी

कहते हैं राजनीति में न कोई किसी का दोस्त होता है और न कोई दुश्मन होता है। शाहीन बाग़ में सीएए के विरुद्ध प्रदर्शन करने वाले शहज़ाद अली इस बात को साबित करते हुये अपनी धुर विरोधी पार्टी भाजपा में शामिल हो गये। भाजपा को मुसलमानों की दुश्मन बताने वाले शहज़ाद अली के सुर भाजपा में शामिल होते ही बदल गये। शाहीन बाग़ के धरने में बीजेपी की धज्जियां उड़ाने वाले शहज़ाद अली पार्टी में शामिल होते ही अपने कहे पर रफू करने में लग गये।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

शहजाद लंबे समय से मुस्लिमों के अधिकारों के लिए काम करते रहे हैं। वे अभी तक भाजपा और आरएसएस के पुरजोर विरोधी रहे हैं। अब उनका कहना है कि भाजपा मुसलमानों की दुश्मन नहीं है और यह बात सबको समझानी बहुत जरूरी है।

दिल्ली में शाहीन बाग के सामाजिक कार्यकर्ता और सीएए के खिलाफ भाजपा सरकार का विरोध करने वाले शहजाद अली रविवार को दिल्ली भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता और पार्टी नेता श्याम जाजू की मौजूदगी में भगवा पार्टी में शामिल हो गए। भाजपा में शामिल होने के बाद शहजाद अली ने कहा कि मैं भाजपा में शामिल हुआ हूं ताकि हमारे समुदाय में शामिल उन लोगों को गलत साबित किया जा सके जो सोचते हैं कि भाजपा हमारी दुश्मन है। उन्होंने कहा कि हम सीएए की चिंताओं पर एक साथ बैठेंगे।

शहजाद अली कुछ दिनों पहले तक भाजपा के मुखर विरोधी थे और शाहीन बाग़ में सरकार के खिलाफ बुलंद आवाज करने वालों में से एक थे। शाहीन बाग़ में धरना खत्म होने के बाद से ही उनका रुख़ बदला-बदला नजर आ रहा था। उन्होंने सोशल मीडिया पर सरकार का पक्ष लेना शुरू कर दिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here