नई दिल्ली : क्राइम फिक्शन बेस्ड नॉवेल लिखने के लिए दुनियाभर में मशहूर लेखक सुरेंद्र मोहन पाठक इस बात से बेहद दुखी नजर आए कि मिर्जापुर वेब सीरीज में उनकी किताब धब्बा को गलत तरीके से परिभाषित करने की कोशिश की गई जिससे उनकी और उस किताब की छवि को नुकसान हुआ है, सुरेंद्र ने प्रोडक्शन हाउस को चेतावनी दी कि अगर उस सीन को सीरीज से नहीं हटाया गया तो वे मिर्जापुर वेब सीरीज के खिलाफ लीगल एक्शन भी ले सकते है, हालांकि सीरीज में से अब सीन को हटा दिया गया है और राइटर से प्रोडक्शन हाउस ने माफी भी मांगी है.

मिर्जापुर 2 की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं, जहां एक तरफ मिर्जापुर के इस नए सीजन को पसंद किया जा रहा है वहीं दूसरी तरफ ये वेब सीरीज कंट्रोवर्सी का भी हिस्सा बनती नजर आ रही है, इस वेब सीरीज में एक सीन आता है जहां पर कुलभूषण खरबंदा अपने सत्यानंद त्रिपाठी के किरदार में होते हैं और हाथ में सुरेंद्र मोहन पाठक की किताब धब्बा पकड़े हुए होते हैं, इस किताब के साथ वे नरेशन में जो बोलते हैं उससे सुरेंद्र मोहन पाठक को आपत्ती हुई और उन्होंने इसे हटाने की मांग की.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

इसके बाद एक्सल एंटरटेनमेंट ने ना सिर्फ उस सीन को ही वेब सीरीज से हटाया बल्कि सोशल मीडिया पर एक लेटर के जरिए राइटर से माफी भी मांगी, लेटर में कहा गया कि- प्यारे सुरेंद्र मोहन पाठक जी, हम अपनी इस गलती के लिए क्षमा मांगते हैं और ये भी साफ कर देना चाहते हैं कि ऐसा करने में हमारी मंशा ये बिल्कुल भी नहीं थी कि किसी भी तरह से आपकी छवि को ठेस पहुंचे, हम इस बात से इत्तेफाक रखते हैं कि आप हिंदी प्राइम फिक्शन के एक बड़े राइटर हैं और आपके काम की काफी प्रशंसा की जाती है.

लेटर में आगे कहा गया कि- हम आपको ये जानकारी देना चाहते हैं कि हमारी तरफ से आपकी इच्छानुसार उस सीन को हटा दिया गया है, हम सीन से बुक कवर को ब्लर कर देंगे और 3 हफ्ते के अंदर वॉइस ओवर को भी हटा देंगे, कृपया इस गलती के लिए हमें माफ कर दें, बता दें कि 23 अक्टूबर को मिर्जापुर 2 का नया सीजन रिलीज किया गया है, इसे दर्शकों का खूब प्यार मिल रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here