नई दिल्ली : जाने-माने पटकथा लेखक और निर्देशक सागर सरहदी का निधन हो गया है, फिल्म इंडस्ट्री में उनकी गिनती बेहतरीन कहानीकारों में होती है.

आखिरी दिनों में उन्होंने खाना-पीना भी छोड़ दिया था, उन्होंने मुम्बई में सायन इलाके में अपने घर में आखिरी सांस ली, सागर 88 साल के थे, सरगार सरहदी ‘कभी कभी’, ‘चांदनी’ और ‘सिलसिला’ जैसी सुपरहिट फिल्मों के लिए जाने जाते थे.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

सागर सरहदी का कल रात को लम्बी बीमारी के बाद निधन हुआ, आज सागर सरहदी का अंतिम संस्कार किया जाएगा, जाने-माने निर्देशक रमेश तलवार ने कहा कि चाचा सागर सरहदी का अंतिम संस्कार सायन अस्पताल से सटे शवदाह गृह में किया जाएगा.

सागर सरहदी का जन्म 11 मई 1933 को पाकिस्तान में हुआ था, वो अपने गांव एबटाबाद को छोड़कर पहले दिल्ली के किंग्सवे कैंप और फिर मुंबई की एक पिछड़ी बस्ती रहे, इसके बाद उन्होंने कड़ी मेहनत के दम पर फिल्मों में अपना करियार बनाया.

सागर सरहदी को को पॉपुलैरिटी यश चोपड़ा की फिल्म ‘कभी कभी’ से मिली थी, इस फिल्म में राखी और अमिताभ बच्चन थे, फिल्म बाजार से उन्होंने डायरेक्शन में डेब्यू किया था, इस फिल्म में स्मिता पाटिल, फारुख शेख और नसीरुद्दीन शाह हैं, 1982 में रिलीज हुई ये फिल्म  इंडियन क्लासिक मानी जाती है, वो इस फिल्म के निर्माता, निर्देशक और राइटर तीनों थे.

उन्होंने फिल्म Noorie (1979); सिलसिला (1981), चांदनी (1989), रंग (1993), जिंदगी (1976); कर्मयोगी, कहो ना प्यार है, कारोबार, बाजार और चौसर जैसी हिट फिल्मों की स्क्रीप्ट लिखी थीं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here