कुदरत का करिश्मा,भीषण आग में भी महफूज़ रहा क़ुरआन

महाराष्ट्र

महाराष्ट्र के मालेगांव में मंगलवार को उस समय कुदरत का करिश्मा देखने को मिला,जब आग से पूरी मंजिल जल गयी लेकिन उसमें रखे क़ुरआन को आँच तक नही आई। कुदरत के इस करिश्मे को देख कर फायर ब्रिगेड के अधिकारी भी आश्चर्यचकित रह गये।
मिली जानकारी के अनुसार मालेगांव स्थित अंजुमन चौक में मंगलवार को भीषण आग लग गयी। सूचना मिलने पर पहुंची फायर ब्रिगेड की गाड़ियों ने स्थानीय निवासियों की मदद से कई घन्टों में आग पर क़ाबू पाया। गनीमत यह रही कि हादसे में कोई हताहत नही हुआ। आग बुझने के बाद लोगों ने अंदर जाकर बचे हुये सामान का जायज़ा लिया तो देखा आग से सब कुछ जल चुका था। लेकिन वहाँ रखे क़ुरआन को आँच तक नही आई थी।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App


आग बुझाने पहुंचे फायर ब्रिगेड हेड संजय पंवार ने बताया कि 3:44 पर अंजुमन चौक में आग लगने की सूचना मिली। सूचना मिलने के तुरन्त बाद दमकल की चार गाड़ियाँ घटनास्थल पर रवाना की गयीं। तीसरी मंजिल पर आग लगी थी। उसमे चार गैस सिलेंडर भी थे,जिनमें से एक सिलेंडर फट गया तथा बाक़ी तीन सिलेंडर निकाल लिए गए। संजय पंवार ने बताया कि इस दौरान सबसे आश्चर्यजनक बात यह लगी कि इतनी बड़ी आग लगने के बाद भी वहाँ रखा पवित्र क़ुरआन एक इंच भी नही जला। यह बहुत बड़ी बात है।


इतनी भीषण आग के बावजूद क़ुरआन को आँच न आने को मौके पर उपस्थित लोगों ने कुदरत का करिश्मा बताया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here