जरूरतमन्दों की मदद को हमेशा तैयार रहती हैं शबीना ख़ान

नई दिल्ली
देश में कोरोना महामारी के चलते लगे लॉकडाउन के कारण सभी लोग आर्थिक संकट से गुज़र रहे हैं। ऐसे हालात में सामाजिक संस्थायें एवं व्यक्ति एक दूसरे की मदद कर रहे हैं। आर्थिक स्थिति ख़राब होने के कारण धार्मिक स्थलों को मिलने वाले चन्दे में भी कमी आ गयी है। जिस कारण धार्मिक स्थलों की ज़रूरतें भी पूरी नही हो रही हैं। ऐसी ही मस्जिद की ज़रूरत के लिए समाजसेवी शबीना ख़ान ने आगे आकर मदद की।
दरअसल समाजसेविका एवं हमारी आवाज़ फाउंडेशन संस्था की संचालक शबीना ख़ान को पता चला कि बटला हाउस स्थित हरी मस्जिद में किताब,कालीन इत्यादि सामान की ज़रूरत है। जैसे ही शबीना ख़ान को यह बात पता चली, उन्होंने फौरन मस्जिद कमेटी के ज़िम्मेदार फुरकान से सम्पर्क किया और मस्जिद की ज़रूरतों के बारे में पूछा। कमेटी के ज़िम्मेदार फुरकान ने बतया कि नमाज़ियों के लिए मस्जिद में कालीन की सबसे ज़्यादा ज़रूरत है। शबीना ख़ान ने नमाज़ियों का ख़्याल करते हुये फुरकान को 40 हज़ार के कालीन ख़रीद कर दे दिए। शबीना के इस सहयोग की कमेटी के ज़िम्मेदार फुरकान ने दिल खोल कर तारीफ़ की। उन्होंने कहा कि अल्लाह जिससे चाहे काम ले लेता है। एक महिला होकर शबीना ख़ान जो नेक काम कर रही हैं वो क़ाबिल ए तारीफ़ है।
आपको बता दें कि शबीना ख़ान ऐसी समाज सेविका हैं जो कई सालों से अपनी एनजीओ हमारी आवाज़ फाउंडेशन के माध्यम से ओखला और दिल्ली की झुग्गी झोपड़ियों में ग़रीब बच्चों के लिए काम कर रही हैं। वह गरीबों को राशन बांट रही हैं। इसके साथ ही शबीना ख़ान ओखला नूर नगर की झुग्गी में 170 ग़रीब बच्चों के लिए मदरसा चला रही हैं। मदरसे के मौलाना की तनख़्वाह हर महीने शबीना ख़ान ख़ुद देती हैं, जिससे कि ग़रीब बच्चे मुफ़्त तालीम हासिल कर सकें।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here