निर्धारित समय के दौरान दुकान बन्द मिली तो दुकानधारकों पर होगी कार्यवाई: इमरान हुसैन

नई दिल्ली
कोरोना वायरस के कारण लगे लॉकडाउन से दिल्ली के ग़रीब तबके को आर्थिक संकट का सामना करना पड़ रहा है। केजरीवाल सरकार ने लोगों की सहूलियत के लिए दिल्ली के लगभग 72 लाख कार्डधारकों को दो महीने का मुफ़्त राशन देने की घोषणा की थी। लेकिन राशन वितरण करने वाले दुकानदार जरूरतमन्दों तक राशन पहुँचाने में गड़बड़ी कर रहे हैं। जिसकी शिकायतें मिलने के बाद खाद्य एवं आपूर्ती मंत्री स्वयं राशन की दुकानों का औचक निरीक्षण कर रहे हैं। इमरान हुसैन ने खाद्य विभाग के आला अधिकारियों के साथ एक वर्चुअल बैठक कर अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।


उन्होंने वर्चुअल बैठक में निर्देश दिया कि खाद्य विभाग के असिस्टेंट कमिश्नर, फ़ूड सप्लाई अफसर एवं इंस्पेक्टर राशन वितरण दुकानों का निरन्तर निरीक्षण करेंगे। जो भी दुकान तय समय (सुबह 9 बजे से 1 बजे तक तथा शाम 3 बजे से 7 बजे तक) के बीच खुली नहीं मिलेगी, उन दुकान धारकों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। फील्ड अधिकारियों की जिम्मेदारी होगी कि सभी दुकानें समय से खुलें तथा सभी ग्राहकों को उनके हिस्से का राशन बिना गड़बड़ी प्राप्त हो। दुकान धारक यदि किसी प्रकार की गड़बड़ी, ग्राहक के साथ दुर्व्यवहार, राशन में मिलावट या कम राशन देना जैसी किसी गतिविधि में लिप्त पाया जाता है तो उसके खिलाफ विभाग सख्त कदम उठाएगा।
कैबिनेट मंत्री ने कहा कि बिना राशन कार्ड धारकों को भी दिल्ली सरकार द्वारा दिया जाने वाला राशन बहुत जल्दी ही दिल्ली के 280 स्कूलों को मिलना शुरू हो जाएगा, जिसके लिए तैयारियां शुरू कर दी गयी हैं।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here