बेहतर पर्यावरण, अच्छे स्वास्थ्य एवं बच्चों के उज्ज्वल भविष्य के लिए वृक्षारोपण करें: श्रीकांत शर्मा

मेरठ(मुह़म्मद अशरफ़)
ऊर्जा एवं अतिरिक्त ऊर्जा स्रोत मंत्री पं. श्रीकान्त शर्मा ने वन महोत्सव के अंतर्गत वृक्षारोपण सप्ताह में प्रभारी जिले मेरठ के निरीक्षण भवन में रविवार को वृक्षारोपण किया। उन्होंने बेहतर पर्यावरण, अच्छे स्वास्थ्य एवं बच्चों के उज्ज्वल भविष्य के लिए महाअभियान का हिस्सा बनने की लोगों से अपील की। ऊर्जा मंत्री ने कहा कि इस अभियान को वृक्षारोपण जनांदोलन बनाकर मेरठ जनपद में 31.70 लाख से अधिक और प्रदेश में 30 करोड़ से अधिक वृक्ष लगाने का लक्ष्य पूरा करें।
प्रभारी मंत्री श्रीकांत शर्मा ने मेरठ के सर्किट हाउस में पौधारोपण कर महा अभियान का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि आज एक ही दिन में पूरे प्रदेश में रिकॉर्ड 25 करोड़ और मेरठ में 26.59 लाख पौधे लगाए जा रहे हैं। यह लक्ष्य आप सबके सहयोग से ही पूरा होगा| उन्होंने कहा कि फलदार-छायादार वृक्ष लगाएं और उसके संरक्षण का संकल्प लें।
ऊर्जा मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आह्वान पर जनसहयोग से हर वर्ष रिकॉर्ड पौधरोपण कर प्रदेश को हरियाली से आच्छादित करने की दिशा में तेजी से प्रयास हो रहे हैं। वर्ष 2017 में वर्तमान सरकार के आह्वान पर जनसहयोग से 05 करोड़ वृक्षारोपण, वर्ष 2018 में 11 करोड़ वृक्षारोपण, वर्ष 2019 में 22 करोड़ वृक्षों के रोपण के लक्ष्य को पूरा किया। वर्ष 2020 में कोरोना महामारी की चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों के बावजूद एक दिन में प्रदेश में 25 करोड़ से अधिक वृक्ष लगाये गये। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार वर्ष 2021 में वन महोत्सव के दौरान 30 करोड़ वृक्ष लगाने का लक्ष्य पूरा करें।
उन्होंने अपील की कि ग्रामीणों के सहयोग से व्यापक प्रयास करना है। वृक्ष लगाने के साथ ही उसके संरक्षण का भी संकल्प पूरा करना है। कोरोना महामारी से दिवंगत हुए लोगों की स्मृति में ग्राम पंचायतों में पौधे रोपित किए जाएं।


उन्होंने कहा कि राज्य सरकार 30 करोड़ पौधे निःशुल्क उपलब्ध करा रही है। कोरोना प्रोटोकॉल का ध्यान रखते हुए महाअभियान को सफल बनायें।
प्रभारी मंत्री ने कहा कि प्रदेश में 100 वर्ष से अधिक आयु के वृक्षों को हेरिटेज वृक्ष के रूप में संरक्षित करने का एक अभियान चलाया जा रहा है। गंगा के तटवर्ती क्षेत्रों में गंगा उद्यान लगाने की कार्यवाही की जा रही है। एक्सप्रेस-वे और हाईवे को इस बार वृक्षारोपण अभियान से जोड़ने जा रहे हैं। राम वन गमन मार्ग और ब्रज क्षेत्र को वृक्षारोपण से आच्छादित करने की कार्यवाही चल रही है।
उन्होंने अधिकारियों से कहा कि मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार वृक्षों को लगाने के बाद इनकी सुरक्षा पर विशेष ध्यान दिया जाये। इसके लिए थर्ड पार्टी ऑडिट और जितने भी वृक्ष लगाए उसमें 75 से 80 प्रतिशत वृक्षों को जियो टैगिंग से जोड़ने के कार्य को गंभीरता से करें। जिससे वृक्षों को टैबलेट या स्मार्ट फोन से भी देखा जा सके। इस अवसर पर जनप्रतिनिधि गण व अधिकारीगण उपस्थित रहे।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here