भाजपा विधायक अपनी ही सरकार के एडीएम सिटी पर हत्या का मुकदमा दर्ज कराने कप्तान के पास पहुंचे

शमशाद रजा अंसारी

ग़ाज़ियाबाद
अपने बयानों एवं कारनामों के कारण सदैव विवादों में घिरे रहने वाले गाजियाबाद के लोनी से बीजेपी विधायक नंदकिशोर गुर्जर ऑक्सीजन की कालाबाज़ारी को लेकर अपनी ही सरकार के अधिकारी पर आरोपों की झड़ी लगा रहे हैं। विधायक के आरोपों से प्रतीत होता है कि भाजपा विधायक को अपनी ही सरकार के प्रशासन पर विश्वास नही है।
लोनी विधायक नंदकिशोर ने योगी सरकार के प्रशासन पर भ्रष्टाचार एवं दर्जनों लोगों की मौत का आरोप लगाया है।
इतना ही नही, विधायक ने जिला प्रशासन पर ऑक्सीजन गैस की कालाबाजारी के आरोप लगाते हुये एडीएम सिटी पर हत्या का मुकदमा दर्ज़ करने की माँग करते हुये पुलिस कप्तान को पत्र भी लिखा है।
विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने एसएसपी को पत्र लिखकर कहा कि ग़ाज़ियाबाद में ऑक्सीजन के कई प्लांट हैं। जिनके द्वारा पूरे जिले में आसानी से ऑक्सीजन की आपूर्ती हो सकती है। 18 लाख की आबादी वाली लोनी विधानसभा में काफ़ी प्रयासों के बाद तीन कोविड अस्पताल घोषित हुये। लेकिन उनमें जिलाधिकारी के कहने के बाद भी तीन दिन से ऑक्सीजन का एक भी सिलेंडर एडीएम सिटी शैलेन्द्र कुमार ने उपलब्ध नही कराया। जिसके कारण कई दर्जन लोगों की मौत हो गयी।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App


एडीएम सिटी पर ऑक्सीजन ब्लैक करने का आरोप लगाते हुये नंदकिशोर ने लिखा कि जनपद में ऑक्सीजन की कोई कमी नही है,लेकिन एडीएम सिटी ब्लैक में दिल्ली और हरियाणा को ऑक्सीजन दे रहे हैं। यह मौतों का सौदा कर करोड़ो रूपये कमा रहे हैं। नंदकिशोर ने आरोप लगाया है कि रात भी एक एजेंसी पर बैठ कर एडीएम सिटी ने कहा कि मैं मुख्यमंत्री का ख़ास हूँ, नेतागिरी ठीक कर दूँगा।


नंदकिशोर गुर्जर ने सबूतों के तौर पर कुछ ऑडियों एवं वीडियो होने का भी दावा किया है। जिनके आधार पर नंदकिशोर ने एडीएम सिटी शैलेंद्र कुमार को ऑक्सीजन के अभाव में हुई मौतों का ज़िम्मेदार ठहराते हुये उन पर हत्या का मुकदमा करने की माँग की है।


वहीं दूसरी ओर एडीएम सिटी ने अपने ऊपर लगाये आरोपों से साफ़ इंकार किया है। एडीएम सिटी ने शैलेन्द्र कुमार ने कहा कि लोनी में कोई कोविड अस्पताल नही है। अगर है तो वहाँ ऑक्सीजन भेजी जाती है। कोविड अस्पताल सीएमओ द्वारा घोषित किया जाता है। जहाँ सीएमओ कहते हैं वहाँ ऑक्सीजन भेजी जाती है।
विधायक और एडीएम सिटी के बयानों में विरोधाभास है। एडीएम सिटी को नहीं पता कि लोनी में कॉविड सेंटर है या नहीं, विधायक के अनुसार तीन कोविड सेंटर।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here