इलाहबादः  तीन नये कृषि कानूनों के विरोध में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की फूलपुर से सांसद श्रीमती केसरी देवी पटेल का आवास घेराव करने जा रहे 26 कांग्रेस कार्यकर्तााओं को पुलिस ने आज हिरासत में ले लिया। आंदोलन कर रहे किसानों के समर्थन में कांग्रेस के राष्ट्रीय नेत्तृत्व के आह्वान पर देशभर में भाजपा सांसद आवास का घेराव कर प्रदर्शन करने की घोषणा की गई थी । इसी क्रम में इलाहबाद में कांग्रेसने भी फूलपुर सांसद केशरी देवी पटेल के आवास को घेरने की योजना तैयार की लेकिन प्रदर्शन के पहले ही पुलिस को इसकी भनक लग गई थी। पुलिस ने म्योहाल चौराहा स्थित सांसद आवास को छावनी में तब्दील कर दिया।

कांग्रेस के जिलाध्यक्ष अरुण तिवारी के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकताओं ने पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत सांसद आवास के करीब पहुँचकर मोदी सरकार के खिलाफ जमकर हंगामा और नारेबाजी किया। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर हल्का बल प्रयोग कर हिरासत में लेकर पुलिस लाइन भेज दिया।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

उन्होंने केन्द्र सरकार पर किसान विरोधी होने का आरोप लगाया। भाजपा सरकार को अपनी किसान विरोधी सोच बदलकर अन्नदाता का सम्मान करना चाहिए। अपनी कड़ी मेहनत से देश का पेट भरने वाला किसान का जितना सम्मान किया उतना कम है लेकिन भाजपा सरकार किसानों की हालत दयनीय बनाकर रख दिया है। सरकार की किसान विरोधी नीतियों के कारण ही खेती-बाड़ी आज घाटे का सौदा हो गयी।

कांग्रेस नेता संजय तिवारी और हसीब अहमद का कहना था की सरकार की गलत नीतियों के कारण देश का किसान परेशान है। धान की फसल भी लागत मूल्य से कम कीमत पर बेचने को किसान मजबूर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here