अरविंद केजरीवाल ने सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों को लिखा पत्र, अगर किसी के पास अतिरिक्त ऑक्सीजन है तो दिल्ली को उपलब्ध कराएं

  • यदि आप हमें अपने राज्य से टैंकरों के साथ ऑक्सीजन उपलब्ध करा सकते हैं तो मैं आपके सहयोग के लिए व्यक्तिगत रूप से आभारी रहूंगा- अरविंद केजरीवाल
  • पिछले कुछ दिनों में कोरोना के गंभीर मामलों में तेजी से वृद्धि के कारण दिल्ली के कई अस्पतालों में ऑक्सीजन की किल्लत हो रही है- अरविंद केजरीवाल
  • केंद्र सरकार दिल्ली की काफी मदद कर रही है, लेकिन कोरोना की गंभीरता ऐसी है कि सभी उपलब्ध संसाधन अपर्याप्त साबित हो रहे हैं- अरविंद केजरीवाल

नई दिल्ली, 24 अप्रैल, 2021
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को देश के सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों को पत्र लिखकर उनसे ऑक्सीजन उपलब्ध कराने के लिए अनुरोध किया है। मुख्यमंत्री ने पत्र लिख कर सभी से अपील की है कि अगर उनके पास अतिरिक्त ऑक्सीजन है, तो दिल्ली को उपलब्ध कराएं। पिछले कुछ दिनों में कोरोना के गंभीर मामलों में तेजी से वृद्धि के कारण दिल्ली के कई अस्पतालों में ऑक्सीजन की किल्लत हो रही है। उन्होंने कहा कि कृपया इसे अति गंभीर समझें। सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि केंद्र सरकार दिल्ली की काफी मदद कर रही है, लेकिन कोरोना की गंभीरता ऐसी है कि सभी उपलब्ध संसाधन अपर्याप्त साबित हो रहे हैं।
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा मैं सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों को पत्र लिखकर उनसे अनुरोध कर रहा हूं कि यदि उनके पास अतिरिक्त ऑक्सीजन है, तो दिल्ली को उपलब्ध कराएं। हालांकि केंद्र सरकार भी हमारी बहुत मदद कर रही है, लेकिन कोरोना की गंभीरता ऐसी है कि सभी उपलब्ध संसाधन अपर्याप्त साबित हो रहे हैं।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App


सीएम अरविंद केजरीवाल ने पत्र में लिखा है कि दिल्ली में कोई ऑक्सीजन का प्लांट नहीं है। इसलिए दिल्ली में ऑक्सीजन का उत्पान नहीं होता है। पिछले कुछ दिनों में कोरोना के गंभीर मामलों में तेजी से वृद्धि के कारण दिल्ली के कई अस्पतालों में ऑक्सीजन की भारी किल्लत हो रही है। दिल्ली में ऑक्सीजन की हो रही दैनिक आपूर्ति हमारी आवश्यकताओं की अपेक्षा बहुत कम है।


मुख्यमंत्री ने पत्र में आगे लिखा है कि केंद्र सरकार भी इस संबंध में दिल्ली सरकार की काफी मदद कर रही है। हालांकि, कोरोना के प्रसार की तीव्रता इतनी गंभीर है कि यह अपर्याप्त साबित हो रही है। इसलिए, यदि आप हमें अपने राज्य या अपने राज्य के किसी भी संगठन से टैंकरों के साथ-साथ ऑक्सीजन उपलब्ध करा सकते हैं, तो मैं आपका आभारी रहूंगा। उन्होंने कहा कि कृपया इस पत्र को अति गंभीर समझें। मैं आपके सहयोग के लिए व्यक्तिगत रूप से आभारी रहूंगा।
दो दिन पहले भी अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि संकट के इस समय में सभी राज्यों को एक-दूसरे की मदद करने के लिए एक साथ आना चाहिए। मौजूदा लहर को सामूहिक संकट बताते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा था अगर हम खुद को हरियाणा, पंजाब, तमिलनाडु, गुजरात, पश्चिम बंगाल में विभाजित करने का फैसला करते हैं, तो भारत नहीं बचेगा। हमें एक भारतीय और मुनष्य के रूप में एक साथ आने और एकजुट होने की आवश्यकता है।
सीएम ने कहा ये भी कहा था कि कोरोना बाॅर्डर्स को नहीं पहचानता है। हमें भी उससे आगे बढ़कर साथ काम करना होगा। हमें दुनिया को यह दिखाने की जरूरत है कि अच्छा और कुशल शासन कैसा होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here