नई दिल्ली : संजय राउत ने कहा कि चार राज्यों, खासकर असम और बंगाल चुनाव के नतीजे राष्ट्रीय राजनीति की आगे की दिशा तय करेंगे, संजय राउत ने कहा कि असम में बीजेपी सत्ता में है लेकिन कांग्रेस उसे कड़ी टक्कर दे रही है.

संजय राउत ने कहा कि सीएम ममता को हराने के लिए बीजेपी ने पूरा जोर लगा दिया है, लेकिन वह एक शेरनी की तरह लड़ रही हैं और यकीनन एक विजेता के तौर पर उभरेंगी, संजय राउत ने कहा हम केरल और तमिलनाडु के राजनीतिक मूड का भी अंदाजा लगा सकते हैं.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

सीएम ममता ने सोनिया गांधी सहित गैर-बीजेपी नेताओं को एक पत्र लिखा था और कहा था कि लोकतंत्र और संविधान पर बीजेपी के कथित हमलों के खिलाफ एकजुट होकर और प्रभावशाली ढंग से संघर्ष करने का समय आ गया है और विपक्षी नेताओं को देश के लोगों के लिए एक विश्वसनीय विकल्प पेश करने की कोशिश करनी चाहिए.

संजय राउत ने कहा चार राज्यों, खासकर असम और बंगाल विधानसभा चुनाव के नतीजे राष्ट्रीय राजनीति की आगे की दिशा तय करेंगे, चुनाव के बाद, गठबंधनों पर चर्चा की जाएगी और तब स्थिति अधिक स्पष्ट होगी,

राउत ने कहा कि बंगाल में जारी महाभारत असल महाभारत से अधिक भीषण है, संजय राउत ने कहा पीएम मोदी ने कहा था कि हम महाभारत का युद्ध 21 दिन में जीते थे और कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई 18 दिन में जीत जाएंगे, लेकिन ऐसा हुआ नहीं.

राउत ने कहा कि पूरा देश पश्चिम बंगाल में हो रहे चुनाव देख रहा है और लोग समझदार भी हैं, उन्होंने कहा यकीनन लड़ाई काफी करीबी है, लेकिन ममता बनर्जी ही जीतेंगी, राउत ने कहा कि देश में लोकतंत्र पर हमला नया नहीं है.

उन्होंने कहा जब भी हमला हुआ है, जनता और विपक्षी दल ने इसका मुकाबला किया है, यही लोकतंत्र की ताकत है, कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर महाराष्ट्र में लॉकडाउन लगाने को लेकर राजनीतिक दलों में मतभेद के सवाल पर राउत ने कहा कि कोविड-19 से निपटने के लिए उठाए जाने वाले कदमों को लेकर राजनीति नहीं होनी चाहिए, उन्होंने कहा जो भी कदम उठाए जाएंगे, वे राज्य और उसके लोगों के हित में होंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here