नई दिल्ली : बंगाल में विधानसभा चुनावों के मद्देनज़र पीएम मोदी ने पुरुलिया में चुनावी रैली को संबोधित किया, इस दौरान पीएम मोदी ने सीएम ममता और लेफ्ट दलों पर जमकर निशाना साधा.

पीएम मोदी ने कहा कि राम ने सीता की प्यास बुझाने के लिए यहां जमीन में तीर मारकर पानी निकाला था, लेकिन आज यहां सिचाईं की स्थिति बेहद खराब है, उन्होंने कहा कि राज्य में ममता सरकार ने विकास नहीं किया और अपने ही खेल में लगी रही, जानिए पीएम मोदी ने क्या-क्या कहा है?

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

ये धरती भगवान राम और मां सीता के वनवास की भी साक्षी रही है, यहां अजुध्या पर्वत है, सीता कुंड है और अजुध्या नाम से ग्राम पंचायत है.

कहते हैं कि जब मां सीता को प्यास लगी थी, तो राम जी ने जमीन पर बाण मारकर पानी की धारा निकाल दी थी.

आज पुरुलिया में पानी का संकट बहुत बड़ी समस्या है, यहां के किसानों, आदिवासी-वनवासी भाई-बहनों को इतना पानी भी नहीं मिलता कि वो सही से खेती कर सकें, यहां की महिलाओं को पीने के पानी की व्यवस्था के लिए बहुत दूर जाना होता है.

TMC सरकार सिर्फ अपने खेल में लगी है, इन लोगों ने पुरुलिया को जल संकट, पलायन और भेदभाव भरा शासन दिया है, इन लोगों ने पुरुलिया की पहचानदेश के सबसे पिछड़े क्षेत्र के रूप में बनाई है, लेकिन बंगाल में बीजेपी सरकार बनने के बाद आपकी दिक्कतों को प्राथमिकता के आधार पर दूर किया जाएगा.

जब बंगाल में डबल इंजन की सरकार बनेगी, तो यहां विकास भी होगा और आपका जीवन भी आसान बनेगा.

आपका उत्साह दिखा रहा है कि टीएमसी की पराजय तय है, इस बार बंगाल के चुनाव में सिंडिकेट वालों की, चुनाव में कट मनी वालों की और  तोलाबाजों की पराजय होगी.

पश्चिम बंगाल में टीएमसी के दिन अब गिनती के रह गए हैं और ये बात ममता दीदी भी अच्छी तरह समझ रही हैं, इसलिए वो कह रही हैं, खेला होबे.

जब जनता की सेवा की प्रतिबद्धता हो, जब बंगाल के विकास के लिए दिन-रात एक करने का संकल्प हो, तो खेला नहीं खेला जाता दीदी.

10 साल के तुष्टिकरण के बाद, लोगों पर लाठियां-डंडे चलवाने के बाद, अब ममता दीदी अचानक बदली-बदली सी दिख रही हैं, ये हृदय परिवर्तन नहीं है, ये हारने का डर है, ये बंगाल की जनता की नाराजगी है, जो दीदी से ये सब करवा रही है.

दीदी, ये मत भूलिए की बंगाल के लोगों की याददाश्त बहुत तेज होती है, बंगाल की जनता को याद है कि गाड़ी से उतरकर आपने कितने लोगों को डांटा और पुलिस से उन्हें पकड़ने को कहा, तुष्टिकरण के लिए आपकी हर कार्रवाई जनता को याद है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here