Urdu

Epaper Urdu

YouTube

Facebook

Twitter

Mobile App

Home भारत सावधान: फेसबुक/व्हाट्सएप्प बन सकते हैं जेल जाने की वजह

सावधान: फेसबुक/व्हाट्सएप्प बन सकते हैं जेल जाने की वजह

शमशाद रज़ा अंसारी

मीडिया एक ऐसा कार्यक्षेत्र है जो लगभग सभी को आकर्षित करता है। सोशल मीडिया में “मीडिया” शब्द जुड़ा होने के कारण सोशल मीडिया से जुड़ा व्यक्ति ख़ुद को पत्रकार समझने लगने लगता है। उसे लगता है कि किसी भी ख़बर को आगे भेज देना या उसकी सूचना देना ही पत्रकारिता है। उसे यह नही पता होता कि पत्रकारिता के भी कुछ उसूल होते हैं। किस खबर में क्या छुपाना है,क्या दिखाना है, किस ख़बर का क्या प्रभाव पड़ेगा इत्यादि सब देखना पड़ता है। इन उसूलों की समझ न होने के कारण सोशल मीडिया पर भ्रामक ख़बरों को सत्य समझ कर फॉरवर्ड करने वाले कभी-कभी बड़ी मुसीबत में फंस जाते हैं। आजकल हर कोई सोशल मीडिया पर बिना जाँच-पड़ताल के खबरें पोस्ट/फॉरवर्ड करने में लगा हुआ है.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

खबरों को पोस्ट/फॉरवर्ड करने वाले उनकी जाँच-पड़ताल करना भी ज़रूरी नही समझते हैं। कभी कभी ऐसी खबरें भी पोस्ट हो जाती हैं जिनसे शान्ति व्यवस्था भंग होने का ख़तरा उत्प्नन हो जाता है। जनपद की चरमराई क़ानून व्यवस्था के कारण जनपद पुलिस पहले से ही आलोचना का शिकार हो रही है। ऐसे में त्यौहारों के नज़दीक आने पर शान्ति व्यवस्था बनाये रखने के लिए एसएसपी कलानिधि नैथानी ने फेसबुक/व्हाट्सएप्प पर अनर्गल सूचनाएँ पोस्ट/फॉरवर्ड करने वालों को सख़्त चेतावनी दी है। एसएसपी ने कहा है कि यदि कोई फेसबुक/व्हाट्सएप्प पर आपत्तिजनक पोस्ट करेगा तो उसके विरुद्ध सख़्त कार्यवाई की जायेगी। कप्तान के आदेश के बाद अब फेसबुक/व्हाट्सएप्प का दुरूपयोग करना आपको जेल की सलाखों के पीछे पँहुचा सकता है.

एसएसपी ने कहा कृपया आप सभी को अवगत कराना है कि अगर कोई भी व्यक्ति आपत्तिजनक सामग्री (जैसे लेख,फोटो,वीडियो आदि )व्हाट्सप्प या फेसबुक पर डालेगा या आगे फॉरवर्ड (forward) करेगा या ग्रुप में अग्रसारित करेगा तो उसके विरुद्ध प्रक्रिया अनुसार आईपीसी की धारा  505/153A/295A /298 का अभियोग पंजीकृत किया जायेगा। उसके विरुद्ध NSA तक की कार्यवाही भी की जा सकती है। यह भी देख लें कि भ्रमित करने के लिए किसी दूसरे जिला/ राज्य या देश की सामग्री (जैसे लेख,फोटो,वीडियो आदि )भी शेयर किया जा सकता है अत: ऐसी पोस्ट्स आदि पर ध्यान न दें.

ग्रुप एडमिन का यह कर्तव्य है ऐसी सामग्री डालने वाले को तुरन्त ग्रुप से बाहर करे व इसकी सूचना तुरन्त पुलिस को दे. एसएसपी ने आपत्तिजनक सामग्री डालने वाले की सूचना देने के लिए निम्न नंबर भी जारी किये हैं.

1- इंचार्ज साइबर सेल-9634422892, 2- पुलिस अधीक्षक नगर-9643322901,

3- पुलिस अधीक्षक ग्रामीण-9643322902,

4- पुलिस अधीक्षक अपराध-9643322905,

5- क्षेत्राधिकारी नगर कोतवाली-9643322906,

6-क्षेत्राधिकारी नगर सिहानीगेट-9643322907,

7-क्षेत्राधिकारी नगर इंदिरापुरम-9643322908,

8-क्षेत्राधिकारी नगर साहिबाबाद-9643322909

9-क्षेत्राधिकारी लोनी-9643322910

10- क्षेत्राधिकारी सदर-9643322911

11- क्षेत्राधिकारी मोदीनगर-9643322912,

12-Integrated Control Room-9643208942

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

राम मंदिर : भूमिपूजन से पहले बोले लालकृष्ण आडवाणी- ‘पूरा हो रहा मेरे दिल का सपना’

नई दिल्ली : अयोध्या में बुधवार को होने वाले राम मंदिर के भूमिपूजन से पहले लालकृष्ण आडवाणी ने वीडियो संदेश जारी किया...

मुझे खुशी है कि दिल्ली मॉडल को दुनिया भर में पहचाना जा रहा है : सीएम केजरीवाल

नई दिल्ली : दक्षिण कोरिया के राजदूत एच.ई. शिन बोंग-किल ने मंगलवार को कोविड महामारी से निपटने के लिए दिल्ली मॉडल की...

दिल्ली : नगर निगम के चुनाव के मद्देनजर आप अपने संगठन का पुनर्गठन करेगी : गोपाल राय

नई दिल्ली : आम आदमी पार्टी के दिल्ली प्रदेश संयोजक गोपाल राय ने एक बयान जारी करते हुए बताया कि आगामी दिल्ली...

दिल्ली दंगा: प्रोफेसर अपूर्वानंद से स्पेशल सेल ने पांच घंटे की पूछताछ, फोन भी जब्त

नई दिल्लीः दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रोफेसर और विचारक अपूर्वानंद से सोमवार को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने पांच घंटे लंबी पूछताछ की....

वोट के लिए दलितों को ठगने वाली BJP क्या राम मन्दिर निर्माण मंच पर भी उन्हें जगह देगी: कुँवर दानिश अली

शमशाद रज़ा अंसारी श्रीराम जन्मभूमि पर मंदिर निर्माण का शुभारम्भ 5 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भूमि पूजन के...