नई दिल्ली : आतिशी ने कहा कि बीजेपी को अपना नाम बदलकर ‘भारतीय गुंडा पार्टी’ कर देना चाहिए। दिल्ली में भाजपा की गुंडागर्दी चरम पर है। भाजपा के गुंडों ने ओखला फेस एक की पार्किंग में उगाही को लेकर तुगलकाबाद निवासी ठेकेदार सुधीर बिधूड़ी के साथ मारपीट की।

यह पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद है, फिर भी पुलिस ने एफआईआर नहीं दर्ज की है। भाजपा सांसद रमेश बिधूड़ी के बेटे और भतीजे क्षेत्र में बड़े पैमाने पर उगाही कर रहे हैं और पुलिस भाजपा के इशारे पर काम करते हुए इनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं कर रही है।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

आतिशी ने कहा कि भाजपा सांसद रमेश बिधूड़ी के भतीजे ने उनके घर के बाहर विरोध प्रदर्शन करने गए ‘आप’ कार्यकर्ता जीतू सैनी को भी पहले धमकी दी और बाद में घर जाकर मारपीट करके उनका हाथ तोड़ दिया।

आम आदमी पार्टी, भाजपा सांसद रमेश बिधूड़ी को तत्काल पार्टी से निलंबित करने की मांग करती है। प्रधानमंत्री और गृहमंत्री को भी स्पष्ट करना चाहिए कि क्या वे इस तरह की गुंडागर्दी का समर्थन करते हैं?

आतिशी ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की केंद्र और दिल्ली एमसीडी में सरकार है, लेकिन आज ऐसा लगता है कि इस पार्टी को अपना नाम बदलकर भारतीय जनता पार्टी की जगह ‘भारतीय गुंडा पार्टी’ कर देना चाहिए।

पिछले कुछ दिनों से दिल्ली में जगह-जगह भारतीय जनता पार्टी की गुंडागर्दी सामने आ रही है। हमने देखा कि जब मुख्यमंत्री के घर के बाहर भाजपा के पार्षद धरना प्रदर्शन पर बैठे हुए थे। धरना प्रदर्शन कहने के लिए शांतिपूर्ण प्रदर्शन था, लेकिन किस तरह से मुख्यमंत्री के घर की सरकारी संपत्ति, सीसीटीवी कैमरा को तोड़ा गया।

 घटना की वीडियो रिकॉर्ड होने के बावूजद आज तक उस पर कोई कार्यवाही नहीं हुई है। उसके 2 दिन बाद उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया जी के घर पर उनके परिवार पर हमले की कोशिश हुई। भाजपा के गुंडे पहले कहते हैं कि हम उप मुख्यमंत्री के घर के बाहर प्रदर्शन करने आ रहे हैं।

भाजपा के गुंडे जब उप मुख्यमंत्री के घर के बाहर पहुंचते हैं, तो पुलिस सांठगांठ के तहत बैरिकेट हटा देती है। पुलिस उन गुंडों के साथ उप-मुख्यमंत्री के घर के दरवाजे तक जाती है। जब वह दरवाजा तोड़कर अंदर जाते हैं, तो पुलिस बगल में होकर रास्ता दे देती है।

ऐसे समय पर जब सिर्फ उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया की पत्नी और बच्चे घर पर थे, तो गुंडे घर में घुसने की कोशिश करते हैं। हमने देखा कि उसके कुछ दिन बाद भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता के नेतृत्व में भाजपा के गुंडे दिल्ली जल बोर्ड के कार्यालय पर प्रोटेस्ट के नाम पर जाते हैं।

वहां पर गेट तोड़कर अंदर चले जाते हैं और तोड़फोड़ करते हैं। वहां पर शीशे, गमले तोड़े जाते हैं और दरवाजों पर कालिख पोती जाती है।

दिल्ली में भाजपा की गुंडागर्दी आजकर चरम पर है। भाजपा की ऐसी ही गुंडागर्दी के हम आपके सामने दो उदाहरण और सामने रखने वाले हैं। जिससे साफ नजर आ रहा है कि अब यह भारतीय जनता पार्टी नहीं रही यह भारतीय गुंडा पार्टी हो गई है।

आतिशी ने कहा कि आम आदमी पार्टी कार्यकर्ता जीतू सैनी तुगलकाबाद विधानसभा के क्षेत्र प्रहलादपुर की मित्तल कॉलोनी में रहते हैं। जब रमेश बिधूड़ी जी ने किसानों के खिलाफ बहुत ही घटिया अपशब्द बोले थे, उस पर जीतू भी हमारे साथ रमेश बिधूड़ी के घर के बाहर प्रदर्शन करने गए थे।

हम शांतिपूर्ण प्रदर्शन करने गए थे और पुलिस ने बैरिकेड की थी। वहीं पर आम आदमी पार्टी के नेता और कार्यकर्ता खड़े रहे। वहां न कोई गुंडागर्दी हुई और न कोई तोड़फोड़ हुई, क्योंकि हम लोकतंत्र में भरोसा रखते हैं। लेकिन जब जीतू अपने घर पहुंचते हैं तो इनको फोन पर रमेश बिधूड़ी जी के भतीजे मनीष बिधूड़ी धमकी देते हैं।

उसके बाद जीतू सैनी के प्रह्लादपुर स्थित घर पर अपने गुंड़ों के साथ मनीष बिधूड़ी आते हैं और इनके साथ मारपीट करते हैं। उनको बोल कर जाते हैं कि अभी तो तुम्हारा सिर्फ हाथ तोड़ा है, आगे अगर फिर से रमेश बिधूड़ी के खिलाफ तुमने प्रदर्शन करने की हिम्मत की तो तुम्हें छोड़ेंगे नहीं। यह है भाजपा की गुंडागर्दी।

विधायक आतिशी ने कहा कि जीतू सैनी ने एसएचओ को 100 नंबर पर कॉल किया। दो घंटे तक कोई पुलिस नहीं आई। इनके द्वारा शिकायत दिए हुए अभी 2 दिन हो गए हैं, लेकिन पुलिस ने कोई भी एफआईआर दर्ज नहीं की है।

भाजपा सीएम आवास के बाहर, उप मुख्यमंत्री आवास के बाहर, दिल्ली जल बोर्ड में और कार्यकर्ताओं को पिटाई करके गुंडागर्दी करती है। भाजपा एक तरफ गुंडागर्दी करती है और दूसरी तरफ भाजपा अपनी पुलिस को आदेश देती है कि जो गुंडागर्दी कर रहा है उसका बाल भी बांका नहीं होना चाहिए।

भाजपा के कार्यकर्ताओं, नेताओं को गुंडागर्दी करने दो। उनके खिलाफ कोई एफआईआर दर्ज नहीं होगी और कोई भी कार्यवाही नहीं होगी।

जिस दिन जीतू सैनी के साथ मारपीट की गई, उसी दिन सुधीर बिधूडी जी के साथ सांसद रमेश बिधूड़ी के भतीजे मनीष बिधूड़ी और उनके गुंडों द्वारा पिटाई की गई। तुगलकाबाद निवासी सुधीर बिधूड़ी के साथ सांसद रमेश बिधूड़ी के बेटे हिमांशु बिधुड़ी और उनके भतीजे मनीष बिधूड़ी जी ने मारपीट की है।

इस मारपीट की वजह भाजपा नेताओं की तरफ से की जाने वाली गुंडागर्दी और उगाही है। क्योंकि सुधीर बिधूड़ी के पास ओखला फेस-1 की पार्किंग का ठेका है। इन पर दबाव बनाया जाता है कि तुम्हारे पास जो पार्किंग का ठेका है, उसका एक हिस्सा हमारे लिए छोड़ो। क्योंकि हम वहां से उगाही करेंगे। ये हिस्सा छोड़ भी देते हैं।

कुछ दिनों बाद फिर से इन पर दबाव बनाया जाता है कि हमारे लिए और एरिया छोड़ो। साथ में 50 हजार रुपए महीने दो। जब ये मना करते हैं, तो इनके कार्यालय में आकर मनीष बिधूडी, हिमांशु बिधुड़ी और उनके गुंडे मारपीट करते हैं। आप अभी तक देख सकते हैं कि इनकी आंख के ऊपर पट्टी लगी हुई है। क्योंकि इनके साथ मारपीट की गई है।

इनके कार्यालय के सीसीटीवी कैमरे पर यह पूरी मार पिटाई कैद हो गई है। साक्षात प्रमाण है कि रमेश बिधूड़ी जी के परिवार के लड़कों ने मार पिटाई की है। सुधीर बिधूड़ी 100 नंबर पर कॉल करते हैं, पुलिस थाने जाते हैं। लेकिन 2 दिन हो गए हैं अभी तक एफआईआर दर्ज नहीं हुई है। जबकि इसका पूरा प्रमाण है कि किस तरह से इनके कार्यालय में घुसकर मारपीट की गई है।

सीसीटीवी फुटेज दिखाते हुए विधायक आतिशी ने कहा कि वीडियो में इनकी स्पष्ट पहचान हो रही है। सीसीटीवी फुटेज में स्पष्ट तौर पर दिख रहा है कि ये लोग सुधीर जी के ऑफिस में घुसकर उनके साथ मार पिटाई कर रहे हैं।

यह दो उदाहरण हैं कि रमेश बिधूड़ी जी के परिवार ने किस तरह से उनके खिलाफ प्रदर्शन करने पर आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता की उनके घर पर जाकर पिटाई की। सुधीर जी ने जब उगाही का पैसा देने और क्षेत्र नहीं छोड़ने से इन्कार किया तो इनके कार्यालय में घुसकर खुद रमेश बिधूड़ी के बेटे और भतीजे ने मारपीट की।

आज भी हम देख सकते हैं कि इनकी आंख पर पट्टी लगी हुई है। यह आंख से अपना हाथ भी नहीं हटा पा रहे हैं। अभी तक उस मार पिटाई का असर इनके ऊपर है। मैं आज भाजपा से पूछना चाहती हूं कि क्या आपका लोकतंत्र से विश्वास उठ गया है।

क्या आपने यह तय कर लिया है कि आप भारतीय जनता पार्टी की जगह भारतीय गुंडा पार्टी बनना चाहते हैं। रमेश बिधूड़ी वही व्यक्ति हैं, जिसने अपनी ही पार्टी के पूर्वांचल के पदाधिकारी को सड़क पर दौड़ा-दौड़ा कर पीटा था। रमेश बिधूडी इलाके में उगाही करते हैं, पार्किंग का पैसा लेते हैं।

कोई उगाही का पैसा देने से मना करता है, तो उनके बेटे उनके भतीजे जाकर पिटाई करते हैं। हम भारतीय जनता पार्टी से पूछना चाहते हैं कि क्या आप इस तरह की उगाही और इस तरह की गुंडागर्दी से सहमत हैं। क्या यह गुंडागर्दी भाजपा कर रही है।

हम प्रधानमंत्री मोदी और अमित शाह से पूछना चाहते हैं कि क्या यह उगाही और गुंडागर्दी आप की सहमति से हो रही है। आपके संरक्षण में हो रही है।

विधायक आतिशी ने कहा कि रमेश बिधूड़ी जी को भाजपा से निलंबित कर देना चाहिए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह अगर रमेश बिधूड़ी को गुंडागर्दी के लिए निलंबित और पार्टी से नहीं निकालते हैं तो दिल्ली की जनता के सामने साफ हो जाएगा कि यह रमेश बिधूड़ी की नहीं, भाजपा की गुंडागर्दी है। अब भारतीय जनता पार्टी नहीं रही, बल्कि भारतीय गुंडा पार्टी हो गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here