नई दिल्ली : अमित शाह ने बंगाल चुनाव के लिए बीजेपी का घोषणा पत्र जारीकिया, इस मौके पर दिलीप घोष, कैलाश विजयवर्गीय, बाबुल सुप्रियो, दिनेश त्रिवेदी समेत कई बीजेपी नेता मौजूद रहे.

अमित शाह ने कहा कि बीजेपी की सरकारें बनने के बाद ही सरकारें संकल्प पत्र पर चलने लगी हैं, शाह ने कहा कि हमारे लिए यह संकल्प पत्र बहुत महत्वपूर्ण है, यह सोनार बांग्ला का संकल्प पत्र है.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

अमित शाह ने कहा कि संकल्प पत्र में सिर्फ घोषणाएं नहीं हैं, बल्कि ये संकल्प है दुनिया के सबसे बड़े दल का, ये संकल्प है देश में 16 से ज्यादा राज्यों में जिसकी सरकार है उस पार्टी का.

ये संकल्प है जिसकी पूर्ण बहुमत से लगातार दो बार बनी सरकार का, शाह ने कहा कि इस घोषणा पत्र का मूल उद्देश्य सोनार बांग्ला है, शताब्दियों तक बंगाल ने कई मोर्चों पर भारत का प्रतिनिधित्व किया, बंगाल हर सेक्टर में आगे रहता था.

बीजेपी ने अपने घोषणा पत्र में महिलाओं किसानों, अनुसूचित जातियों, जनजातियों, मछुआरों को लेकर खास वादे किए गए हैं, इसके साथ ही पश्चिम बंगाल के किसानों के लिए किसान सम्मान निधि की बकाया राशि दिए जाने का वादा भी भाजपा ने अपने घोषणा पत्र में किया है.

बीजेपी ने घोषणापत्र जारी करने से पहले राज्‍य में बड़ा अभियान चलाया था और लोगों से राय मांगी थी कि वह राज्‍य में किस तरह का बदलाव चाहते हैं.

बीजेपी अध्‍यक्ष नड्डा ने खुद इस अभियान की शुरुआत की थी, इसके लिए करीब दो करोड़ से ज्यादा लोगों से फोन और वेबसाइट के जरिए भी सुझाव लिए गए थे, बीजेपी ने राज्‍य के लोगों की मांग को देखते हुए ही अपना चुनावी घोषणापत्र तैयार किया है.

बता दें कि बंगाल में आठ चरणों में विधानसभा चुनाव होने है, पहले चरण के चुनाव के लिए 27 मार्च को मतदान होगा, इस बार बंगाल चुनाव में बीजेपी और टीएमसी के बीच कड़ी टक्‍कर देखने को मिल रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here