बीजेपी सरकार में हर परीक्षा होती है लीक, एचएसएससी को भंग किया जाए : आफताब अहमद

हरियाणा
हरियाणा कांग्रेस विधायक दल के उप नेता चौधरी आफताब अहमद ने हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग की कांस्टेबल परीक्षा के लीक होने के बाद प्रदेश की बीजेपी सरकार को जमकर निशाने पर लेते हुए कहा कि सरकार की बिना मिलीभगत के पेपर लीक संभव नहीं लगता है। एक के बाद एक कुल 35 परीक्षाओं का लीक होना बड़े भ्रष्टाचार की तरफ इशारा कर रहा है। 

बता दें कि विज्ञापन संख्या 04/2020 कैट नंबर- 01 आ, जोकि 07 और 08 अगस्त 2021 को राज्य के विभिन्न जिलों में आयोजित होना था, उसे एचएसएससी ने लीक होने के कारण रद्द कर दिया है। 

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

सीएलपी उप नेता चौधरी आफताब अहमद ने एचएसएससी के चेयरमैन सहित पूरे कमीशन को भंग करके उच्च न्यायालय से जांच की मांग करते हुए कहा कि ये नौकरियों में बहुत बड़े भ्रष्टाचार की तरफ इशारा कर रहा है, जिसमें सरकार के मंत्रियों की भी मिलीभगत सामने आयेगी। प्रदेश के मुख्यमंत्री को जिम्मेदारी लेते हुए इस्तीफा देना चाहिए क्योंकि मुख्यमंत्री बिना पर्ची बिना खर्ची के नौकरी का ढिंढोरा पीट रहे थे लेकिन उनकी सरकार में 35 नौकरियों के पेपरों का लीक होना साबित करता है कि प्रदेश सरकार की देख रेख में युवाओं से लूट की जा रही है। 

 सीएलपी उप नेता आफताब अहमद ने कहा कि आज नौकरियों के पेपर लाखों रुपयों में खुले आम बिक रहे हैं, गरीब प्रतिभाशाली छात्रों के साथ इससे बड़ा अत्याचार कुछ नहीं हो सकता है। अमीरों लोग बीजेपी सरकार में खुले आम नौकरियों के पेपर खरीद रहे हैं। 

नूंह विधायक आफताब अहमद ने कहा कि पहले भी एचएसएससी कमीशन पर व उसके चेयरमैन पर गंभीर आरोप लगे थे, उन्हें सस्पेंड भी किया गया था लेकिन सरकार ने मामले में लीपा पोती करके भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने का काम किया है।
आफताब अहमद ने कहा कि पेपर माफिया भाजपा  सरकार के संरक्षण में फल फूल रहे हैं जिससे मेहनती बच्चों का भविष्य दांव पर लग रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here