नई दिल्ली : बीते कई दिनों से दिल्ली नगर निगम के अधिकारी दिल्ली सरकार द्वारा निगमों को उनका बकाया रुपया नहीं देने का आरोप लगाते हुए पुरे दिल्ली में प्रोस्टेस्ट कर रहे है। शनिवार को जब तिमारपुर विधानसभा क्षेत्र के विधायक दिलीप पाण्डेय के दफ्तर के बाहर भाजपा मार्च निकालने के लिए पहुंच, तो एक अनुठा दृश्य देखने को मिला।

तिमारपुर विधायक दिलीप पाण्डेय के दफ्तर के बाहर भारतीय जनता पार्टी शासित नगर निगम को आईना दिखाते हुए, दर्जनों होर्डिंग आस-पास नजर आये, जिसमें ‘लिखा था 2500 करोड़ का घोटाला, केजरीवाल ने दिए जाँच के आदेश’ और एक दूसरे होर्डिंग में लिखा था ‘बीजेपी की नगर निगम ने 11 नए टैक्स हम पर लगा दिये है’।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

भारतीय जनता पार्टी ‘आप’ विधायक के दफ्तर के बाहर लगे होर्डिंग पर लिखे संदेशों पर रियेक्ट करने के लिए तैयार नहीं दिखे। होर्डिंग देख भारतीय जनता पार्टी एकदम से सुन्न पड़ गई, उन्हें समझ नहीं आ रहा था कि इस पर उन्हें क्या जवाब देना चाहिए। भारतीय जनता पार्टी आम आदमी पार्टी के खिलाफ विरोध करने आई थी लेकिन उन्हें ये प्रोटेस्ट भारी पड़ गया, यहां भाजपा के विरूध्द ही एक साईलेंट प्रोटेस्ट हो गया, इससे भाजपा कहीं ना कहीं खुद को ठगी हुई महसूस कर रही है । 

इस बीच आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता प्रोटेस्ट करने आये भाजपा के लोगों का स्वागत करते नजर आये। लोकतंत्र में यह एक अलग सा रवायत देखने को मिला माननीय विधायक दिलीप पाण्डेय की ओर जहां वो विरोध करने आये लोगों को पानी और केला बांटते व उनकी सेवा करते नजर आय़े।

दो दिन पहले आम आदमी पार्टी ही भारतीय जनता पार्टी के लोगों ने उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के घर पर हमला करवाया, और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को उन्हीं के घर में भाजपा ने दिल्ली पुलिस से नजरबंद कराया। ऐसे में इस तरह की अनूठी पहल की चर्चा पूरे इलाके में हो रही है। लोग ये तक कह रहे है कि यहां भाजपा को प्रोटेस्ट करना महँगा पड़ गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here