नई दिल्ली : केजरीवाल सरकार दिल्ली के विभिन्न इलाकों में झुग्गियों में रहने वाले परिवारों के पुनर्वास के लिए बेहद गंभीरता से काम कर रही है। सीएम अरविंद केजरीवाल के निर्देश पर डुसिब ने विभिन्न इलाकों में आवंटन के लिए 9315 फ्लैट तैयार कर लिया है।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मुख्यमंत्री आवास योजना दिल्ली सरकार की प्रमुख योजनाओं में से एक है। उन्होंने अधिकारियों को चिंहित झुग्गी बस्तियों में रहने वाले परिवारों में तैयार 9315 फ्लैट्स के आवंटन की प्रक्रिया शुरू करने के निर्देश दिए।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

सीएम ने कहा कि फ्लैट्स के आवंटन को लेकर जो भी आवश्यक औपचारिकताएं हैं, उन्हें शीघ्र पूरा किया जाए, ताकि लोगों को जल्द फ्लैट दिया जा सके। सीएम ने कहा कि शेष फ्लैटों का निर्माण कार्य भी तय समय सीमा के अंदर पूरा किया जाए, फ्लैट निर्माण कार्य से संबंधित जमीन से जुड़ी कानूनी अड़चनों को यथा शीघ्र दूर किया जाए।

मुख्यमंत्री ने आज अपने आवास पर झुग्गी-झोपड़ियों में रह रहे परिवारों के पुनर्वास के लिए मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत बनाए जा रहे फ्लैट्स की प्रगति को लेकर आयोजित समीक्षा बैठक के दौरान यह दिशा-निर्देश दिए। समीक्षा बैठक में दिल्ली के शहरी विकास मंत्री सत्येंद्र जैन और डुसिब के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे।

ने सीएम अरविंद केजरीवाल को बताया कि मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत झुग्गी बस्तियों में रहने वाले परिवारों के लिए कई चरणों में फ्लैट्स बनाए जाने हैं। अधिकारियों ने बताया कि ए-1 चरण में 9315 फ्लैट आवंटन के लिए पूरी तरह से तैयार हैं।

इन फ्लैट्स में 14 झुग्गियों बस्तियों में रहने वाले परिवारों को शिफ्ट किया जाना है। इन परिवारों को तैयार फ्लैट्स में शिफ्ट करने की तैयारियां भी शुरू कर दी गई हैं। अधिकारियों ने बताया कि इसमें 73 झुग्गी बस्तियों के लिए अभी 28,910 फ्लैट बनाए जाने हैं और इस पर भी काम शुरू कर दिया गया है।

इसके अलावा, डुसिब एक अलग श्रेणी में 19,060 फ्लैट्स का निर्माण भी करेगा। अधिकारियों ने मुख्यमंत्री को बन कर तैयार चुके फ्लैट्स की विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि ए-1 चरण में तीन स्थानों पर फ्लैट बनाए गए हैं।

जिसमें, भलस्वा जहांगीरपुरी में 7400 फ्लैट्स बनाए गए हैं, जो 7 जेजे बस्तियों में रहने वाले परिवारों को आवंटित किए जाएंगे। इसी तरह, सुल्तानपुरी में 4 झुग्गी बस्तियों के लिए 1060 फ्लैट्स और बवाना में 3 झुग्गी बस्तियों में रहने वाले परिवारों के लिए 855 फ्लैट बनाए गए हैं।

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत झुग्गी बस्तियों में रहने वालों परिवारों का पुनर्वास किया जाना है। दिल्ली सरकार द्वारा इन्हें नए फ्लैट उपलब्ध कराए जाएंगे। इस योजना को दिल्ली शहरी आश्रय सुधार बोर्ड (डुसिब) द्वारा कार्यान्वित किया जा रहा है।

झुग्गी बस्तियों में रह रहे परिवारों के लिए तीन चरणों में 89,400 फ्लैट बनाने का निर्णय लिया गया है। पहले चरण में 41,400 फ्लैट बनाए जाएंगे। दूसरे चरण में 18,000 फ्लैट बनाए जाएंगे। वहीं, दो चरणों में तैयार किए गए 59,400 फ्लैट्स में पहले परिवारों को शिफ्ट किया जाएगा।

उनके शिफ्ट होने के बाद जो जमीन खाली होगी, उसमें तीसरे चरण के तहत 30,000 फ्लैट बनाए जाएंगे। तीनों चरण में फ्लैट निर्माण का कार्य 2022 से 2025 तक पूरा कर लिया जाएगा। डुसिब द्वारा बनाए जा रहे यह सभी फ्लैट बहुमंजिला होंगे।

जिस एजेंसी को फ्लैट्स निर्माण की जिम्मेदारी सौंपी जा रही है, उसे अनुबंध के 24 महीने (31 मार्च 2023) में निर्माण कार्य पूरा करना होगा। कुल फ्लैट्स की अनुमानित लागत करीब 3312 करोड़ रुपए है और प्रत्येक फ्लैट को बनाने में करीब 8 लाख रुपए खर्च किए जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here