नई दिल्ली : सीएम ममता का अमित शाह के बंगाल दौरे के लेकर निशाना साधा, कहा कि शाह ने जो दावा किया कि सभी विकास सूचकांकों पर राज्य ने काफी अच्छा प्रदर्शन किया है.

सीएम ममता ने कहा कि टीएमसी के बीते 10 वर्षों के शासन के दौरान राजनीतिक हत्या’एं और अन्य अप’राध कम हुए हैं, उन्होंने कहा कि चूंकि शाह गलत साबित हुए हैं इसलिए अब वह ‘ढोकला पार्टी’ दें.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

सीएम ममता ने कहा, अमित जब कुछ कहते हैं तो उसे प्रामाणिक बनाने के लिये आंकड़े, तथ्य और संख्याएं होनी चाहिए, विकास के सभी सूचकांकों पर बंगाल अन्य राज्यों से आगे है.

लेकिन अमित शाह ने जानबूझ कर राज्य की कमतर और निराशाजनक तस्वीर पेश करने की कोशिश की, मुझे चुनौती दी गई थी… तो यह मेरा जवाब है,’ उन्होंने कहा कि कोलकाता को दो बार देश में ‘सबसे सुरक्षित शहर’ का दर्जा मिला.

ममता ने कहा, ‘एनसीआरबी के आंकड़ों के मुताबिक, टीएमसी के शासन के दौरान राजनीतिक हत्या’एं, अन्य आप’राधिक घटनाएं और बला’त्कार के मामलों में कमी आई है, आत्म’हत्याओं को भी अब राजनीति ह’त्या बताया जा रहा है.’

ममता ने कहा, ‘दूसरों पर उंगली उठाने से पहले बीजेपी नेताओं को उत्तर प्रदेश के हाथरस दुष्क’र्म-ह’त्या मामले के खिलाफ भी आवाज उठानी चाहिए.’

सीएम ममता ने हल्के अंदाज में कहा कि चूंकि उन्होंने सही आंकड़े पेश करके गृहमंत्री को गलत साबित कर दिया है तो अब उनका उनके प्रति ‘ढोकला’ पार्टी बनती है.

औद्योगिक उत्पादन में पश्चिम बंगाल के 20वें नंबर पर होने के दावे को खारिज करते हुए टीएमसी की प्रमुख ने कहा कि इस साल जुलाई में मोदी सरकार द्वारा जारी आंकड़े के हिसाब से राज्य औद्योगिक वृद्धि में चौथे नंबर पर है.

उन्होंने कहा, ‘पश्चिम बंगाल 2019-20 में प्रदेश जीडीपी में दूसरे नंबर पर रहा लेकिन भाजपा ने दावा किया हम 32 प्रदेशों में 16वें नंबर पर आये, बंगाल में एफडीआई 2019-20 में 0,22 फीसद से बढ़कर 1,62 फीसद हो गयी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here