हापुड़, आज नगर पालिका स्थित गांधी पार्क में जिला व शहर कांग्रेस कमेटी के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने पूर्व विधायक गजराज सिंह व बदरूद्दीन कुरैशी के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश में हाल ही में हुए 69000 शिक्षक भर्ती घोटाले के विरोध में एक दिवसीय उपवास रखा,साथ ही देश में पेट्रोल व डीजल की निरंतर बढ़ती कीमतों पर केंद्र व प्रदेश की भाजपा सरकार को भी घेरा।

प्रदेश महासचिव बदरुद्दीन कुरैशी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में लाखों नौजवान बेरोजगार हैं हमारा युवा वर्ग मेहनत करके सरकारी प्रतियोगिताओं की परीक्षा देता है सरकारी परीक्षा पास करने के बाद ही वह अपने जीवन को सार्थक कर पाता है, लेकिन प्रदेश सरकार व सरकारी तंत्रों की मिलीभगत से सरकारी प्रतियोगिताओं को घोटाले की भेंट चढ़ा दिया जाता है। ऐसे घोटाले न सिर्फ युवाओं का भविष्य खराब करते हैं बल्कि जीवन में उनके आगे बढ़ने की महत्वाकांक्षा को भी नकारात्मकता देते हैं।
कांग्रेसियों ने नगर पालिका स्थित गांधी पार्क में उपवास रखने के पश्चात गांधी पार्क से लेकर नेहरू चौक तक केंद्र व प्रदेश सरकार के विरुद्ध पेट्रोल व डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ धरना प्रदर्शन भी किया। कुछ कांग्रेसियों ने कपड़े उतार कर केंद्र व प्रदेश सरकार के खिलाफ अपना रोष भी प्रकट किया।
पूर्व विधायक गजराज सिंह ने ये भी कहा कि अन्तर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतें काफी निम्न स्तर तक गिर जाने के बावजूद भी केंद्र व प्रदेश की भाजपा सरकार देश में निरंतर 12 दिनों से पेट्रोल व डीजल के दामों में निरंतर वृद्धि कर रही हैं। पिछले 12 दिनों में पेट्रोल व डीजल की कीमतों में केंद्र सरकार ने 10 रू प्रति लीटर की बढ़ोतरी की है इन बढ़ती कीमतों का असर देश की आम जनता पर खास तौर से पड़ा हैं।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

पेट्रोल व डीजल के बढ़ते दामों से ट्रांसपोर्ट का खर्च काफी बढ़ चुका है इसका सीधा सीधा असर देश के व्यापारियों पर पड़ा है। पूर्व विधायक गजराज सिंह ने केंद्र सरकार से पेट्रोल और डीजल के दामों में ₹11 प्रति लीटर की बेतहाशा वृद्धि के प्रति रोष प्रकट करते हुए कहा कि इस बढ़ती महंगाई से आम जनता का जीना दुश्वार हो गया है। केंद्र सरकार को जल्द से जल्द पेट्रोल डीजल के बढ़ते दामों को वापस लेकर आम जनता को राहत देनी चाहिए।
जिलाध्यक्ष मिथुन त्यागी व शहर अध्यक्ष अभिषेक गोयल ने संयुक्त रूप से कहा कि उत्तर प्रदेश में पीडीएस,डीएचएफएल, जूता मौजा घोटाला इत्यादि घोटाले सामने आ रहे हैं अभी हाल ही में उत्तर प्रदेश में 69000 शिक्षक भर्ती घोटाले का मामला सामने आया है जिसमें भारतीय जनता पार्टी के नेता, मंत्री व प्रशासनिक अधिकारी घोटाले में संलिप्त पाए गए हैं लेकिन प्रदेश सरकार भाजपा के नेताओं को बचाने में लगी हुई है। प्रदेश सरकार के इस घोटाले की वजह से उत्तर प्रदेश में हजारों नौजवान छात्रों का भविष्य अधर में लटक हुआ है।
इस अवसर पर पूर्व जिलाध्यक्ष सैयद अयाजुद्दीन,पूर्व पीसीसी सत्यनारायण अग्रवाल, पूर्व पीसीसी नवरत्न त्यागी,अल्पसंख्यक उत्तर प्रदेश कोंग्रेस कमेटी के कोर्डिनेटर डॉ.खालिद खान,मुरादाबाद प्रभारी डॉ.शोएब,पूर्व सभासद राकेश खन्ना,पूर्व सभासद सुशील शास्त्री,पूर्व सभासद प्रेम शर्मा,सभासद नरेश भाटी, कोषाध्यक्ष विक्की शर्मा, सेवादल के वरिष्ठ उपाध्यक्ष अंकित शर्मा, शहर मीडिया प्रभारी व प्रवक्ता गौरव गर्ग,मयंक त्यागी,वरिष्ठ कोंग्रेस नेता किशन बाटला,कार्तिक शर्मा,ललित शर्मा,गुलजार अहमद,मनदीप शर्मा,रिजवान कुरैशी,मनोज कौशिक,मुकेश कौशिक,धर्मेंद्र कश्यप, मुस्तकीम अलवी, कुसुमलता,एडवोकेट दिनेश सैनी,निसार खान,एहतेशाम कुरैशी,मनोज शर्मा आदि लोग उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here