नई दिल्ली: चीन के वुहान शहर से फैले कोरोना वायरस ने भारत समेत पूरी दुनिया में तबाही मचा रखी है, हिंदुस्तान में महाराष्ट्र कोरोना वायरस की सबसे ज्यादा चपेट में है, अब तक महाराष्ट्र में 1018 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए जा चुके हैं, जिनमें से 64 लोगों की मौत हो चुकी है, इसके अलावा 79 लोग इलाज से ठीक भी हो चुके हैं, जिनको अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है, महाराष्ट्र और कर्नाटक में कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए भीड़भाड़ वाली जगहों यानी जरूरी सामानों की दुकानों और दवाइयों की दुकानों में मास्क लगाना सबके लिए जरूरी कर दिया गया है,

मुंबई में तो मास्क नहीं लगाने पर सजा भी दी जाएगी, मुंबई में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या को देखते हुए सभी के लिए मास्क पहनना जरूरी किया गया है, बुधवार को बृहन्मुंबई म्युनिसिपल कॉरपोरेशन के कमिश्नर प्रवीण परदेशी द्वारा जारी आदेश में कहा गया कि सार्वजनिक स्थान पर मास्क नहीं पहनना अपराध है, जिसके लिए आईपीसी की धारा 188 के तहत सजा दी जाएगी, यह आदेश एपिडेमिक डिसीज एक्ट 1897 के तहत जारी किया गया है, इस आदेश का पूरी गंभीरता के साथ पालन करने को कहा गया है, दरअसल, कुछ शोधों में खुलासा हुआ है कि सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के साथ ही मास्क पहनने से कोरोना को फैलने से रोकने में मदद मिलती है, इसी के चलते मुंबई में सभी के लिए मास्क पहनना जरूरी किया गया है, मास्क नहीं पहनने पर पुलिस अधिकारी या फिर वार्ड के असिस्टेंट कमिश्नर द्वारा नियुक्त अधिकारी गिरफ्तार कर सकता है,

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

वहीं, उत्तर प्रदेश में कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए योगी सरकार ने 15 जिलों के हॉटस्पॉट एरिया को सील कर दिया है, यह आदेश बुधवार रात 12 बजे से लागू हो जाएगा, इन जिलों के हॉटस्पॉट एरिया में 13 अप्रैल तक कोई भी आवाजाही नहीं होगी, यहां तक की सामानों की होम डिलिवरी होगी, इससे पहले कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए मोदी सरकार ने 14 अप्रैल तक के लिए लॉकडाउन कर दिया है, ट्रेन, मेट्रो, बस और फ्लाइट को पूरी तरह से बंद कर दिया गया है, इसके बावजूद देश में कोरोना वायरस के मामलों में तेजी से इजाफा हो रहा है, मोदी सरकार कोरोना को फैलने से रोकने के लिए लॉकडाउन को बढ़ाने पर भी विचार कर रही है, भारत में अब तक कोरोना वायरस के 5100 से ज्यादा मरीज सामने आ चुके हैं, जिनमें से 149 लोगों की मौत हो चुकी है और 402 लोग इलाज से ठीक हो चुके हैं, हालांकि अभी तक कोरोना वायरस की वैक्सीन और दवा नहीं बनाई जा सकी है,

वहीं, दुनियाभर में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या 14 लाख 34 हजार से ज्यादा हो चुकी है, जिनमें से 82 हजार 200 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है, 3 लाख 01 हजार 768 कोरोना मरीज इलाज से ठीक भी हुए हैं, कोरोना वायरस के सबसे ज्यादा मामले अमेरिका में देखने को मिले हैं, जबकि सबसे ज्यादा लोगों की मौत इटली में हुई है, कोरोना वायरस से इटली में 17 हजार 125 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि एक लाख 35 हजार 500 से ज्यादा लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं, इसके बाद कोरोना से मौत के मामले में स्पेन का नंबर है, जहां 14 हजार 500 से ज्यादा लोगों की जान गई है, इसके बाद 12 हजार 956 मौतों के साथ अमेरिका तीसरे नंबर पर और 10 हजार 328 मौतों के साथ फ्रांस चौथे नंबर पर है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here