नई दिल्ली : ब्रिटेन में कोविड-19 के नए स्ट्रेन का पता लगने के बाद पुरी दुनिया में हड़कम्प मचा हुआ है, लेकिन हमारे देश में लापरवाही कम होने का नाम नहीं ले रही है.

मोदी सरकार ने ब्रिटेन से लौटे पैसेंजर के लिए एसओपी जारी की, बावजूद इसके ब्रिटेन से लौटे पांच पैंसजर चकमा देकर दिल्ली एयरपोर्ट से निकल जाने में कामयाब रहे.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

इनमें से तीन लोगों को ट्रेस कर केदिल्ली के लोकनायक हॉस्पिटल में एडमिट करा दिया गया है, इसके अलावा एक संक्रमित लुधियाना और एक संक्रमित आंध्र प्रदेश जाने में कामयाब रहा.

दोनों को बुधवार को वापस लाया गया है, पांचों को क्वारनटीन कर दिया है, इसके साथ ही सैंपल को जांच के लिए भेज दिया गया है.

सूत्रों का कहना है कि अमृतसर के पंडोरी गांव के रहने वाले 46 वर्षीय एक शख्स ब्रिटेन से लौटा था, उनकी कोविड-19 रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी, इसके बावजूद वो दिल्ली एयरपोर्ट से लुधियाना पहुंचने में कामयाब रहा.

लुधियाना में उसने अपने आपको प्राइवेट अस्पताल में भर्ती करा लिया था, बुधवार सुबह मरीज को वापस दिल्ली भेज दिया गया.

 पंजाब के एक वरिष्ठ स्वास्थ्य अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर कहा कि यह एक स्पष्ट चूक थी, क्योंकि आदमी पॉजिटिव होने के बावजूद यात्रा करने में कामयाब रहा, उन्होंने कहा कि मंगलवार शाम 4,30 बजे के आसपास हमें दिल्ली में अधिकारियों का फोन आया.

प्रोटोकॉल के अनुसार, हमने उसकी तलाश शुरू कर दी, शाम को लगभग 5,30 बजे वह एक निजी अस्पताल में मिला, उसके संपर्क में आए लोगों को क्वारनटीन कर दिया गया है.

लुधियाना प्रशासन ने कहा कि हम मरीज को वापस दिल्ली स्थानांतरित करने के पक्ष में नहीं थे, क्योंकि इससे संक्रमण फैल सकता था.

रोगी को दिल्ली में ही क्वारनटीन के तहत रखा जाना चाहिए था, हम उनके अन्य संपर्कों को भी ट्रेस करने की प्रक्रिया में हैं, हालांकि, दिल्ली के अफसरों की अपील पर शख्स को ट्रांसफर कर दिया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here