नई दिल्ली : केजरीवाल सरकार ने दिल्ली वालों को इलेक्ट्रिक वाहन खरीदने के प्रति प्रोत्साहित करने के लिए आज से ‘स्वीच दिल्ली‘ अभियान की शुरूआत की है। दिल्ली की केजरीवाल सरकार देश की ऐसी पहली सरकार है, जिसने प्रदूषण कम करने और इलेक्ट्रिक वाइकल को बढ़ावा देने के लिए इस तरह का कैंपेन लाँच किया है।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि इस मुहित के तहत लोगों को इलेक्ट्रिक वाहनों की उपयोगिता, फायदे और स्वच्छ प्रदूषण में अपना योगदान देने के लिए जागरूक किया जाएगा। दिल्ली सरकार ने इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा देने के लिए तय किया है कि अगले छह महीने बाद जो भी वाहन हायर किए जाएंगे, वो केवल इलेक्ट्रिक वाहन होंगे।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

मुख्यमंत्री ने सभी आरडब्ल्यूए, मार्केट एसोसिएशन से अभियान में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेने, इसके बारे में जनता के बीच जागरूकता फैलाने के साथ बड़ी कंपनियों और सामान डिलीवर करने वालों से अपनी फ्लीट्स को स्वीच कर इलेक्ट्रिक वाहनों की तरफ बढ़ने की अपील की है।

सीएम ने कहा कि ‘आप’की सरकार दिल्ली में अलग-अलग जगहों पर 100 चार्जिंग स्टेशन बना रही है। उन्होंने अपील की कि बड़ी कंपनियों, माॅल्स, सिनेमा घर, रेस्टोरेंट्स और कमर्शियल शॉपिंग काॅम्प्लेक्स परिसर में भी चार्जिंग स्टेशन बना जाएं।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रदूषण फैलाने वाले वाहनों से इलेक्ट्रिक वाहनों की तरफ स्वीच करने के लिए ‘स्वीच दिल्ली’ अभियान की शुरूआत की। सीएम अरविंद केजरीवाल ने प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि दिल्ली में वाहनों से जो प्रदूषण होता है,

उस प्रदूषण को कम करने के लिए पिछले आपकी सरकार ने अगस्त के महीने में एक इलेक्ट्रिक व्हीकल्स पॉलिसी का ऐलान किया था। दिल्ली सरकार ने इलेक्ट्रिक वाहनों की खरीद को प्रोत्साहन देने के लिए ईवी पॉलिसी बनाई थी।

कहा जा रहा है कि यह पाॅलिसी अपने देश की तो यह सबसे अच्छी पॉलिसी है ही, यह दुनिया भर में चुनिंदा अच्छी पॉलिसीज में दिल्ली की ईवी पॉलिसी आती है। दिल्ली की ईवी पाॅलिसी को दुनिया की सबसे अच्छी पॉलिसी में गिना जाता है।

अब लग कर हमें इस पाॅलिसी को लागू करवाना है। इस पॉलिसी के तहत हम लोगों ने एक बहुत ही महत्वाकांक्षी सोच रखी है कि हमें वाहनों से दिल्ली में होने वाले प्रदूषण को काफी कम करना है।

हमारा लक्ष्य है कि दिल्ली में 2024 तक जितने भी वाहन खरीदे जाएंगे, उसमें से कम से कम 25 प्रतिशत इलेक्ट्रिकल वाहन होने चाहिए। हमें इस तरह से पूरा खाका तैयार करना है।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि लोग ज्यादा से ज्यादा इलेक्ट्रिक वाहन खरीदें, इसके लिए दिल्ली सरकार बहुत बड़े स्तर के ऊपर इसमें सब्सिडी का प्लान बनाया है। उदाहरण के तौर पर, अगर कोई दोपहिया या तीन पहिया वाहन खरीदना है, तो करीब 30 हजार रुपए तक की आपको सब्सिडी मिल सकती है।

अगर चार पहिया वाहन खरीदना चाहते हैं, तो आपको करीब 1.5 लाख रुपए तक की सब्सिडी मिल सकती है। यह सब्सिडी भी खरीदने के सिर्फ 3 दिन के अंदर सीधे आपके बैंक खाते में आ जाती हैं और जितने भी इलेक्ट्रिक वाहन खरीदे जाएंगे, उन पर कोई रोड टैक्स नहीं लगेगा,

कोई पंजीकरण शुल्क नहीं लगेगा। यह सब फ्री रहेगा। आपकी सरकार ने बहुत बड़े स्तर पर इलेक्ट्रिक व्हीकल को प्रोत्साहित करने के लिए यह पॉलिसी बनाई है।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि इलेक्ट्रिक वाहन में पेट्रोल इस्तेमाल नहीं होता है, उसको बिजली से चार्ज करना पड़ता है। इसके लिए चार्जिंग स्टेशन की जरूरत होती है। इसलिए पूरी दिल्ली में जगह-जगह 100 चार्जिंग स्टेशन बनाने की तैयारी शुरू हो गई है।

इसके लिए टेंडर दिए जा रहे हैं। मैं उम्मीद करता हूं कि जल्द ही इलेक्ट्रिकल के लिए सार्वजनिक चार्जिंग स्टेशन भी तैयार हो जाएंगे। हमने दिल्ली में जब से इस पॉलिसी की घोषणा की है, तब से दिल्ली में 6 हजार इलेक्ट्रिक वाहन खरीदे जा चुके हैं।

इनमें से अधिकतर को सब्सिडी मिल चुकी है और जो बच गए हैं, उनको भी सब्सिडी मिल रही है, लेकिन यह संख्या पर्याप्त नहीं है। अभी हमें बहुत बड़े स्तर पर इस संख्या को आगे बढ़ाना है।

इसलिए हमें इस को जन आंदोलन बनाना पड़ेगा कि अब अगर हम अपने घर, बिजनेस या दफ्तर के लिए कोई वाहन खरीदते हैं,

तो हम यह ठान लें कि मुझे भी प्रदूषण कम करने में अपनी भागीदारी करनी है। मुझे भी प्रदूषण कम करना है, क्योंकि अगर हम सब लोग मिल कर प्रदूषण कम नहीं करेंगे, तो सिर्फ सरकार के प्रदूषण कम करने से नहीं होगा।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली के अंदर वाहनों की वजह से सबसे ज्यादा प्रदूषण होता है। वाहनों का प्रदूषण तभी कम होगा, जब हर नागरिक उसमें अपना सहयोग करेगा। इसी के मद्देनजर ‘आप’की सरकार आज से ‘स्वीच दिल्ली’ अभियान शुरू कर रही है।

दिल्ली के लोगों को इलेक्ट्रिक वाहन खरीदने के प्रति जागरूक करने के लिए हम यह जन अभियान शुरू कर रहे हैं। इस मुहिम के तहत लोगों को जागरूक करेंगे कि इलेक्ट्रिक वाहन की क्या उपयोगिता है?

इससे आप कैसे स्वच्छ प्रदूषण में अपना सहयोग कर सकते हैं? इसके क्या-क्या फायदे हैं? यह संदेश जनता तक पहुंचाने के लिए ‘स्वीच दिल्ली’ अभियान शुरू कर रहे हैं। ‘स्वीच’ मतलब कि आप अपने प्रदूषित वाहन से इलेक्ट्रिक वाहन की तरफ स्वीच कीजिए। आज मैं दिल्ली के अपने सभी निवासियों से अपील करता हूं कि आप लोग इस कैंपेन में हिस्सा लीजिए।

आप भी जागरूकता फैलाइए है और आप लोग भी यह प्रण लीजिए कि अगली बार जब भी आपको वाहन खरीदना पड़े, तो आप भी इलेक्ट्रिक वाहन खरीदेंगे, प्रदूषण को कम करने वाला वाहन खरीदेंगे।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने इस अभियान में सभी लोगों से बढ़-चढ़ कर हिस्सेदारी करने की अपील करते हुए कहा, मैं सभी आरडब्लूए, मार्केट एसोसिएशन से अपील करता हूं कि इस अभियान में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लें और इसके बारे में जनता के बीच में जागरूकता फैलाएं।

उन्होंने कहा कि जो डिलीवरी बेडा (फ्लीट्स) हैं, जैसे जिनके पास अलग-अलग समान पहुंचाने के लिए फ्लीट्स है, उनसे अपील करता हूं कि वे भी अपनी फ्लीट को इलेक्ट्रिक वाहन में स्वीच करें।

जो बड़ी-बड़ी कंपनियां हैं, जिन कंपनियों में काफी वाहन होते हैं, उन से अपील करना चाहता हूं कि आप लोग भी अपनी फ्लीट को बदल कर इलेक्ट्रिक वाहन की तरफ बढ़ें। साथ ही, सभी बड़ी-बड़ी कंपनियों से निवेदन है कि वे आपने परिसर में इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए चार्जिंग स्टेशन बनाएं।

दिल्ली में जितने माॅल्स, सिनेमा घर, रेस्टोरेंट और कमर्शियल शॉपिंग काॅम्प्लेक्स हैं उन सब से अपील करता हूं कि वे भी अपने-अपने पार्किंग में इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए चार्जिंग स्टेशन बनाएं। दिल्ली सरकार भी इसमें अपनी भूमिका निभा रही है। हम दिल्ली सरकार के अंदर जितने वाहन हायर करते हैं।

अब हमने तय किया है कि अगले महीने बाद हम जो भी वाहन हायर करेंगे, हम केवल इलेक्ट्रिक वाहन ही हायर किया करेंगे। मैं खासतौर से सभी युवाओं से अपील करता हूं कि आप जब अपनी पहली गाड़ी खरीदें, तो वो इलेक्ट्रिक वाहन खरीदिएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here