नई दिल्ली: स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन को शुक्रवार को ऑक्सीजन सपोर्ट पर रखा गया है, एएनआई के मुताबिक़, जैन के फेफड़ों में संक्रमण बढ़ गया है, जैन के कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी, सांस लेने में परेशानी होने के बाद उन्हें सोमवार रात को राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी अस्पताल में भर्ती कराया गया था, उस दौरान उन्हें तेज़ बुखार था और शरीर में ऑक्सीजन लेवल गिर गया था,  कुछ दिन पहले दिल्ली के सीएम केजरीवाल को बुखार के साथ गले में खराश की परेशानी हुई थी, इसके बाद उन्होंने ख़ुद को आइसोलेट कर लिया था, उनका कोरोना टेस्ट कराया गया था और इसकी रिपोर्ट नेगेटिव आई थी,

हाल ही में दिल्ली के उपसीएम सिसोदिया ने कहा था कि कोरोना संक्रमण के मामले इसी रफ़्तार के साथ बढ़ते रहे तो 31 जुलाई तक राजधानी में संक्रमण के मामलों की संख्या 5.5 लाख तक पहुंच सकती है, सिसोदिया ने कहा था, ‘इसीलिए, दिल्ली की कैबिनेट ने यह फ़ैसला लिया था कि अभी कुछ समय तक जब तक कोरोना का संकट है, सरकार के अस्पतालों के बेड्स को दिल्ली वालों के लिए ही रिजर्व करके रखा जाए,’  लेकिन दिल्ली के अस्पतालों के बेड्स को दिल्ली वालों के लिए ही रिजर्व रखे जाने के केजरीवाल सरकार के फ़ैसले को उप राज्यपाल अनिल बैजल पलट चुके हैं,

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

कुछ दिन पहले ही सत्येंद्र जैन ने कहा था कि राजधानी में कोरोना का कम्युनिटी स्प्रेड शुरू हो गया है लेकिन केंद्र सरकार जब इसे आधिकारिक तौर पर घोषित करेगी तभी इसे माना जाएगा, उन्होंने कहा था कि राजधानी में लगभग आधे केस ऐसे आ रहे हैं जिसमें लोगों को यह नहीं पता चल रहा है कि उन्हें कोरोना वायरस का संक्रमण कहां से हुआ है और यही कम्युनिटी स्प्रेड है, स्वास्थ्य मंत्री के बयान का सीधा मतलब है कि इन हालात में दिल्ली में कोरोना संक्रमण के मामले और बढ़ सकते हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here