नई दिल्लीः एक तरफहरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर द्वारा कश्मीरी लड़कियों की गई विवादित टिप्पणी के कारण उनकी चौतरफ निंदा हो रही है। तो दूसरी तरफ ऐसे भी लोग हैं जो खट्टर के बयान को ‘जस्टीफाई’ कर रहे हैं। गोदी मीडिया के कई लोगों ने खट्टर के बयान को जस्टीफाई करने अथवा ‘मजाक’ करार दिया है।

हिन्दी न्यूज़ चैनल न्यूज़ 24 के एंकर मानक गुप्ता ने खट्टर के बयान की आलोचना करने वालों पर तंज करते हुए ट्विट किया कि 370 पर ऐसी बेचैनी है कि खट्टर के ‘मज़ाक़’ में भी सिर्फ़ कश्मीर दिखा, न “सेक्स रेशो” दिखा, न “बिहार की लड़कियां” दिखीं. नियत सही होती तो पूरा मज़ाक़ भद्दा लगता. इस पर पत्रकार ज्योती यादव ने टिप्पणी करते हुए कहा कि हरियाणा का सेक्स रेश्यो मज़ाक़ का विषय नहीं है. बिहार से ख़रीदकर लाई बहुएँ भी मज़ाक़ का विषय नहीं है और कश्मीर की लड़कियाँ भी मज़ाक़ का विषय नहीं है. हाँ, खट्टर के बयान को ग़लत तरीक़े से छापना भी मज़ाक़ का विषय नहीं है.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

इसके बाद मानक गुप्ता ने खट्टर के मुकम्मल बयान की वीडियो पोस्ट करते हुए कहा कि ये है मनोहर लाल खट्टर का पूरा बयान जिस पर हंगामा है. मुद्दा हरियाणा के घटते सेक्स रेशो का था….बिहार की लड़कियों का भी ज़िक्र है. उस पर कोई आपत्ति नहीं कर रहा. पर मज़ाक़ में भी कश्मीर का नाम लेना मना है।

वहीं इंडिया टीवी के एंकर सुशांत सिन्हा ने भी खट्टर के बयान की वीडियो पोस्ट करते हुए उन लोगों पर निशाना साधा जिन्होंने खट्टर के बयान की आलोचना की है। सिन्हा ने लिखा कि कुछ लोग कश्मीर पर अपना एजेंडा चलाने के लिए इतने तत्पर हैं कि साहब का बयान भी यूँ पेश करके रिपोर्ट लिखी कि जो पढ़े सोचे कि अब तो कश्मीरियों को बख्शने के मूड में नहीं बाकी का हिंदुस्तान। शर्मनाक है। खट्टर साहब को न्यूज़ पोर्टल पर केस करना चाहिए। ये साधारण मामला नही।

खट्टर की सफाई, लेकिन भाजपा ने किया बचाव

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने अपने बयान को लेकर हुए विवाद के बाद सफाई पेश की है। उन्होंने आरोप लगाया कि उनके बयान को गलत तरीके से पेश किया गया है। खट्टर ने कहा कि कुछ मीडिया चैनल और न्यूज एजेंसियों के हवाले से एक भ्रामक तथा तथ्यहीन प्रचार चलाया जा रहा है।  जनता से मेरा ईमानदार संवाद हमेशा रहा है इसलिये मेरे बयान का पूरा वीडियो मैं सोशल मीडिया के माध्यम से शेयर कर रहा हूँ। बेटियाँ हमारी शान हैं और पूरे देश की बेटियाँ हमारी बेटियाँ हैं।

दूसरी तरफ भारतीय जनता पार्टी (हरियाणा) ने खट्टर का बचाव किया। हरियाणा भाजपा ने ट्विट करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर खट्टर  बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान की बात कर रहे है और लिंगानुपात कम होने के कारण उत्पन हुए समस्याओं को उदाहरण दे कर समझा रहे है। अब एजेंडे के नाते तोड़ मरोड़ कर बातें करने से पहले पूरा बयान सुनें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here