विकास

देश सेवा के जज्बे को सलाम,फरीदाबाद के रहने वाले अरुण मित्तल ने पर्यावरण को बचाने को लेकर जो यात्रा 14 सितंबर 2019 को शुरू की थीं। उस पर विजय प्राप्त कर ली हैं । आपको बता दे कि फरीदाबाद के रहने वाले अरुण मित्तल एक मैकेनिकल इंजिनयर हैं जो जर्मनी की एक  मल्टीनेशनल कंपनी में जॉब करते थे । साल 2019 के सितंबर माह में इन्होने पर्यावरण को बचाने के लिए पैदल 13 हजार किलो मीटर की यात्रा क़ा प्रण लिया, जो आज पूरा हो गया।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

अरुण मित्तल बताते हैं कि इस सफर में उन्हें अनेकों समस्याओं क़ा सामना करना पड़ा कदम कदम पर पैर डगमगाये । एक बार को तो लगा कि यह कभी पूरा नहीं हो सकता । मगर देश सेवा के जज्बे के आगे सब पीछे छूट गया । और कदम आगे बढ़ते चले गए । कदम इतने आगे बड़े कि कश्मीर से कन्या कुमारी तक पैदल यात्रा कों आज पूर्ण कर लिया । सलाम हैं इस जज्बे को, सलाम हैं, सलाम हैं उस माँ को जिसने अरुण मित्तल जैसे सपूत को जन्म दिया ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here