नई दिल्ली/नोएडा: देश भयंकर कोरोना महामारी से जूझ  रहा हो,  लेकिन कुछ प्राइवेट लैब ने इसे ही कमाई का धंधा बना लिया है,  जो चंद रूपयों के लालच में आकर लोगों की जान खतरे में डाल रहें है, ये लैब्स कोरोना नेगेटिव लोगों को पॉजिटिव बताकर अवैध रूप से पैसा कमा रही थी और ICMR के दिशा-निर्देशो का उल्लंघन करते हुए गलत तरीके से सैंपल इकट्ठा कर लोगों को मौत के मुंह में धकेल रही थी,

नोएडा पुलिस की तफ्तीश के दौरान इस पूरे गौरखधंधे का खुलासा हुआ है, जानकारी मिली है कि दिल्ली से सटे नोएडा में ऐसे 20 से ज्यादा लोग हैं जिन्हें हल्के बुखार, खांसी और ज़ुखाम की शिकायत थी‚  लेकिन इन प्राइवेट लैब्स ने सभी को कोरोना पॉजिटिव बता दिया, ये लोग प्राइवेट डॉक्टर्स के पास इलाज के लिए गए थे जहां डॉक्टरों ने ही इन्हे कोरोना टेस्ट कराने की सलाह दी थी,

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

इसके बाद इन सभी लोगों को सरकारी अस्पताल के कोविड आइसोलेशन वार्ड में भेज दिया गया, जहां इनकी दोबारा से जांच की गई‚  हैरानी की बात ये है कि करीब 20 से ज्यादा लोगों की रिपोर्ट कोरोना नेगेटिव आई, पूरे मामले का खुलासा होने पर नोएडा प्रशासन में हड़कंप मच गया, जिसके बाद एक प्राइवेट लैब के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच की गई तो पता चला कि ऐसी 5 और लैब्स है जो अवैध तरीके से सैंपल लेकर रूपयों के लालच में नेेगेटिव लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव बता रही है,  ये लैब्स एक टेस्ट की कीमत 4,000 रुपये से 5,000 हजार रुपये तक वसूली  कर रही थी,

पुलिस का कहना है इस काम में कुछ प्राइवेट डॉक्टरर्स भी शामिल हो सकते है जो सामान्य मरीज को कोरोना का डर दिखाकर इन लैब्स से जांच कराने के लिए सलाह दे रहे थे, जांच में ये भी सामने आया कि इन प्राइवेट लैब्स ने ICMR की गाइडलाइंस का उलंघन भी किया है‚ इनमें से कुछ लैब ऐसी हैं जिनके पास कोविड-19 टेस्ट की परमीशन नहीं है, नोएडा प्रशासन का दावा है कि ऐसी 6 लैब्स है जो अवैध तरीके से जांच कर रही थी‚  इन सभी के खिलाफ जल्द कार्रवाई की जाएगी

ये लैब्स कर रही थी फर्जी तरीके से जांच

1- लाइफलाइन लैब

2- मॉडर्न लैब

3- स्टार इमेजिंग लैब

4- oncquest Lab

5- Accuris Lab

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here