नई दिल्ली : भारत के पूर्व CJI जस्टिस रंगन गोगोई को जेड प्लस सुरक्षा मुहैया कराई गई है, रंजन गोगोई को देशभर में कहीं भी आने-जाने के लिए Z+ सुरक्षा मिली है.

सीआरपीएफ को उन्हें सुरक्षा मुहैया कराने के लिए कहा गया है, अयोध्या विवाद पर फैसला सुनाने से पहले भी तत्कालीन चीफ जस्टिस रंजन गोगोई को जेड प्लस सुरक्षा दी गई थी.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

बता दें कि जेड प्लस कैटेगरी के लोगों की सुरक्षा का जिम्मा केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल यानी सीआरपीएफ करता है और जेड प्लस कैटेगरी की सुरक्षा देश के चुनिंदा लोगों को मिली हुई है.

किसे जेड प्लस सुरक्षा दी जानी है, इसका फैसला केंद्र सरकार करती है, खुफिया विभागों से मिली सूचना के आधार पर जेड प्लस और अन्य तरह की सुरक्षा वीआईपी लोगों को दी जाती है.

9 नवंबर 2019 को तत्कालीन चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया रंजन गोगोई और चार अन्य जजों की पीठ ने अयोध्या विवाद पर महत्वपूर्ण फैसला सुनाया था, पीठ ने विवादित जमीन पर राम मंदिर बनाने का आदेश दिया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here