नई दिल्ली: गुजरात के भरूच में एक केमिकल फैक्ट्री में भीषण आग की घटना घटी है, भरूच के दाहेज में स्थिति केमिकल फैक्ट्री के टैंक में धमाके से 5 लोगों की मौत हो गई है, जबकि 57 लोग घायल बताए जा रहे हैं, घटना बुधवार दोपहर में हुई, फायर ब्रिगेड टीम ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया गया है, घायलों को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है,

भरूच के कलेक्टर एमडी मोदिया ने बताया कि बुधवार दोपहर एक एग्रो-केमिकल कंपनी के बॉयलर में विस्फोट की घटना घटी थी, सभी घायलों को भरूच के अस्पतालों में ले जाया गया है और आग पर काबू पा लिया गया है, उन्होंने बताया कि आग पूरी फैक्ट्री में लगी थी, एहतियात के तौर पर केमिकल प्लांट के पास के दो गांवों को खाली कराया गया है, फैक्ट्री में काफी तरह केमिकल रखे गए थे, इस घटना की पूरी जांच होगी,

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

बीते महीने में आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम में एक फार्मा कंपनी में गैस लीकेज का मामला सामने आया था, इस हादसे में करीब 12 लोगों की मौत हो गई थी और सैकड़ों लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे, एलजी पॉलिमर्स कंपनी की लापरवाही के चलते स्टाइरीन गैस रिसाव हुआ था, यह खुलासा मॉनिटरिंग कमेटी ने नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल के समक्ष दाखिल अपनी रिपोर्ट में किया था, मॉनिटरिंग कमेटी ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि एलजी पॉलिमर्स कंपनी की लापरवाही और ट्रेनिंग के अभाव में गैस रिसाव हुआ, जिसमें 12 लोगों की मौत हो गई, इस हादसे में 22 जानवर भी मारे गए थे,

मॉनिटरिंग कमेटी ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि एलजी पॉलिमर्स कंपनी ने स्टाइरीन गैस प्लांट में बुनियादी सुरक्षा मानकों का पालन नहीं किया था, साथ ही 800 टन से ज्यादा स्टाइरीन गैस को प्लांट से निकाला गया, आंध्र प्रदेश हाईकोर्ट के पूर्व जस्टिस बी, शेषासायण रेड्डी के नेतृत्व वाली जॉइंट मॉनिटरिंग कमेटी ने फैक्ट्री सेफ्टी इंस्पेक्टर्स और सेफ्टी स्टैंडर्ड के पैन इंडिया ऑडिट की भी जांच की

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here