नई दिल्ली : ऑस्‍ट्रेलिया के सलामी बल्‍लेबाज डेविड वॉर्नर और ग्‍लेन मैक्‍सवेल भारत के खिलाफ वनडे सीरीज में गेंदबाजों की जमकर धुनाई कर रहे हैं.

पहले वनडे में जहां वॉर्नर ने 69 रन और मैक्‍सवेल ने 19 गेंदों पर 45 रन बनाए, वहीं दूसरे वनडे में वॉर्नर ने 83 रन और मैक्‍सवेल ने नाबाद 63 रन जड़े, मैदान पर दोनों की बल्‍लेबाजी देखने लायक थी.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

पूर्व कप्तान इयान चैपल ने आईसीसी को ‘स्विच हिटिंग’ पर बैन लगाने का सुझाव दिया है और इस शॉट को मैक्‍सवेल और वॉर्नर खूब खेलते हैं.

चैपल ने कहा है कि ‘स्विच हिटिंग’ शॉट गेंदबाज और फील्डिंग कर रही टीम के लिए ‘सर्वथा अनुचित’है, भारत के खिलाफ मौजूदा वनडे सीरीज में मैक्सवेल और वॉर्नर ने कई बार स्विच हिट का इस्तेमाल किया.

इस शॉट में जैसे ही गेंद गेंदबाज के हाथ से छूटती है, दाएं हाथ बल्‍लेबाज तुरंत ही बल्‍ला बाएं हाथ में थाम लेता है, ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज इसे काफी आसानी से कर भी लेते हैं.

‘वाइड वर्ल्ड ऑफ स्पोर्ट्स ’ से बात करते हुए चैपल ने कहा कि भारत के खिलाफ दूसरे वनडे में मैक्सवेल और वॉर्नर ने कई ऐसे शॉट लगाए.

उन्‍होंने कहा कि गेंदबाज के हाथ से गेंद छूटते ही अगर कोई बल्लेबाज अपना हाथ या पैर बदल लेता है तो यह अवैध शॉट होना चाहिए, उन्‍होंने कहा कि यह शॉट तभी ठीक हो सकता है, जब बल्लेबाज पहले ही बता दें, वरना यह अनुचित है.

चैपल ने कहा कि गेंदबाज को तो अंपायर को बताना पड़ता है कि वह किस तरह की गेंद डालने जा रहा है, दाएं हाथ के बल्लेबाज के लिए कप्‍तान उसी तरह से फील्ड लगता है, मगर फिर अचानक ही बल्‍लेबाज बाएं हाथ से खेल जाता है, यह गलत है.

कप्‍तान ने कहा कि उन्‍हें यह समझ में नहीं आता कि गेंदबाज इसकी शिकायत क्यों नहीं करते, उन्होंने कहा कि क्रिकेट प्रशासकों को इस पर रोक लगानी चाहिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here