नई दिल्ली: कोरोना वायरस का प्रकोप पूरी दुनिया में फैल रहा है, दुनिया भर में अब तक कोरोना वायरस का संक्रमण करीब 6 लाख लोगों में फैल चुका है, जिनमें से लगभग 27 हजार लोगों की मौत हो चुकी है, इनमें से अब तक 1.30 लाख लोग सही होकर अपने घरों को भी लौट चुके हैं, भारत में अब तक 850 से भी अधिक लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं और 19 लोगों की मौत की भी पुष्टि हो चुकी है, कोरोना वायरस से दुनिया भर में कैसे हालात पैदा हो गए हैं, आइए उस पर एक नजर डालते हैं, आपको बताते हैं कुछ जरूरी बातें, जो आपको पता होनी ही चाहिए,

1- गर्मी से कोरोना मरेगा या नहीं

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

इस बात को लेकर शुरू से ही काफी चर्चा हो रही है कि गर्मी के मौसम में कोरोना वायरस मर जाएगा, ये नया वायरस है, इसलिए अभी तक इस बात की न तो किसी रिसर्च ने पुष्टि की है, ना ही डॉक्टर इस बारे में अधिक जानकारी रखते हैं, सिंगापुर में गर्मी हो रही है, लेकिन बावजूद उसके वहां पर कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं, हो सकता है कि भारत में पड़ने वाली सूखी गर्मी से कोरोना मर जाए, जब तापमान 40 डिग्री से भी ऊपर चला जाता है, लेकिन अभी भी इसे लेकर कोई पुष्टि नहीं हुई है,

2- रूस और सिंगापुर पर गलत आंकड़े देने का आरोप

ये आरोप लगाया जा रहा है कि रूस और सिंगापुर कोरोना वायरस के मामलों के सही आंकड़े नहीं दे रहे हैं, वह कम संख्या बता रहे हैं, जबकि हालत इससे अधिक गंभीर है, ये भी आरोप लगाया जा रहा है कि रूस और सिंगापुर में टेस्टिंग भी काफी कम हो रही है,

3- चीन को गाली देने में 900 फीसदी की बढ़ोत्तरी

कोरोना वायरस की शुरुआत चीन से ही हुई थी, ऐसे में आज भी लोग चीन को गालियां दे रहे हैं, इसका एक बड़ा उदाहरण टि्वटर बन गया है जहां पर चीन और उसके लोगों पर की जाने वाली घृणा से भरी टिप्पणियों में 900 फीसदी की बढ़ोत्तरी हुई है, टेक स्टार्टअप इजराइल स्थित कंपनी एल1जीएचटी ने अपनी रिपोर्ट में कहा, ‘लोग ज्यादा से ज्यादा समय सोशल नेटवर्क, संचार ऐप्स, चैट रूम्स और गेमिंग सेवा पर बिता रहे हैं तथा इन प्लेटफॉर्म्स पर नफरत, गाली गलौज और छींटाकशीं करने वाली टिप्पणियां बढ़ गई हैं,

4- भारत के ओडिशा में कोरोना तीसरे स्टेज में!

ओडिशा में शुक्रवार को 60 साल के एक शख्स को कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद प्रदेश सरकार ने एक बड़ा बयान दिया, सरकार ने आशंका जताई है कि ओडिशा कोरोना संक्रमण के तीसरे स्टेज में पहुंच सकता है, सरकार के इस डर की वजह ये मरीज भी है, जो कि बिना किसी कोरोना प्रभावित इलाके की यात्रा किए कोरोना के संक्रमण से प्रभावित हुआ है, ओडिशा में अब तक कोरोना के तीन केस मिले हैं,

5- इटली में एक दिन में 970 की मौत

ताजा आंकड़ों के मुताबिक शुक्रवार को इटली में मरने वालों की संख्या में रेकॉर्ड इजाफा हुआ है, यहां अब एक दिन में 970 लोगों की मौत हो गई है, इससे यूरोपीय देश में मरने वालों की कुल संख्या 9,134 हो गई है, यहां 86,498 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि सिर्फ 10,950 ठीक हुए हैं, इस हफ्ते एक दो बार आंकड़ों में कमी आने से देश का मेडिकल स्टाफ मुस्कुराने लगा था, लेकिन एक बार फिर हालात दर्दनाक हो गए हैं,

6- संक्रमण के मामले में अमेरिका टॉप पर

चीन से शुरू हुए कोरोना वायरस पर चीन ने खुद भले ही काबू कर लिया हो, लेकिन अमेरिका जैसा विकसित देश इससे बुरी तरह प्रभावित हो चुका है, अगर संक्रमण के मामलों को देखा जाए तो अब अमेरिका 1 लाख से अधिक संक्रमण के साथ टॉप पर जा पहुंचा है, अमेरिका में अब तक 1.03 लाख लोग कोरोना से संक्रमित हैं, जबकि करीब 1700 की मौत हो चुकी है,

7- मौतों के मामले में इटली की हालत सबसे दर्दनाक

इटली में संक्रमण का आंकड़ा को अमेरिका से कम है, लेकिन मौतों का आंकड़ा अमेरिका की तुलना में करीब 5 गुना है, इटली में अब तक 9000 से भी अधिक लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि संक्रमण 86 हजार लोगों में फैला है, ध्यान देने वाली बात ये है कि जिस चीन से ये सब शुरू हुआ था, वहां की आबादी काफी अधिक होने के बावजूद वह खिसक कर तीसरे नंबर पर आ चुका है, चीन में इस समय करीब 81 हजार लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं, जबकि करीब 3300 लोगों की मौत हो चुकी है,

8- पाकिस्तान की हालत भी जान लीजिए

कोरोना वायरस से पाकिस्तान में अब तक करीब 1200 लोग संक्रमित हो चुके हैं, स्वास्थ्य सेवाओं के मंत्रालय की वेबसाइट के अनुसार सिंध में 421 मरीज, पंजाब में 408, बलूचिस्तान में 131, खैबर पख्तूनख्वा (केपी) में 123, गिलगित-बाल्टिस्तान (जीबी) में 84, इस्लामाबाद में 25 और पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में एक मामला सामने आया है, इसी बीच पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने 1.2 अरब रुपए के आर्थिक राहत पैकेज की घोषणा तो कर दी है, लेकिन पाकिस्तान के पास एक भी पैसा नहीं है, इस संकट से निपटने के लिए एक बार फिर से इमरान सरकार आईएमएफ, विश्‍वबैंक और एडीबी के दरवाजे पर पहुंच गई है,

9- वायरस ने मंदी में धकेला, 2009 से बदतर होगी हालत

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष यानी आईएमएफ की चेयरमैन क्रिस्टालिना जॉर्जीवा ने कहा है कि कोरोना वायरस ने दुनिया की अर्थव्यवस्था को मंदी की ओर धकेल दिया है, ऐसे में विकासशील देशों को मदद के लिए बड़े पैमाने पर पैसों की जरूरत होगी, उन्होंने साफ-साफ कहा है कि हमने एक मंदी में प्रवेश किया है, जो कि वैश्विक वित्तीय संकट के बाद 2009 से भी बदतर होगा,

10- इटली के 51 डॉक्टरों की मौत

पिछले दिनों इटली के 51 डॉक्टर कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे, अब इटैलियन एसोसिएशन ऑफ डॉक्टर्स ने बताया है कि उन सभी 51 डॉक्टरों की मौत हो गई है, इटली के डॉक्‍टर के संघ के अध्‍यक्ष फिलिपो अनेल्‍ली ने हाल ही में इसी खतरे को देखते हुए डॉक्‍टरों के लिए और ज्‍यादा सुरक्षा उपकरण मांगे थे, अनेल्‍ली ने कहा, ‘सबसे पहला काम डॉक्‍टरों और हेल्‍थ केयर वर्कर की सुरक्षा करना है ताकि वे कोरोना की चपेट में न आएं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here