नई दिल्‍ली : सऊदी अरब में काम करने वाले भारतीय कामगारों के लिए बड़ी राहत की खबर है, दरअसल सऊदी अरब ने अपने कफाला सिस्‍टम को हटाकर नया कफाला स्‍पॉन्‍सरशिप सिस्‍टम लागू कर दिया है.

इसके तहत अब वहां रहकर काम करने वाले भारतीय कामगार अपनी मर्जी से नौकरी बदल सकेंगे, इसका फायदा दूसरे देशों के भी कामगारों को मिलेगा, अब ये लोग अपने देश भी खुद के अनुसार आ-जा सकेंगे.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

बता दें कि सऊदी अरब ने नवंबर 2020 में अपने यहां लागू कफाला सिस्टम में बदलाव करने और नए कफाला स्पॉन्सरशिप सिस्टम को लागू करने की बात कही थी, इसे अब रविवार को आधिकारिक रूप से लागू कर दिया गया है.

इस सिस्‍टम के तहत अब कामगारों के लिए नौकरी देने वाली कंपनी या मालिकों की ओर से दुर्व्यवहार किए जाने और शोषण की स्थिति में कम वेतन मिलने पर उसी नियोक्ता के साथ काम करते रहने की पाबंदी हटा दी गई है.

सऊदी अरब के मानव संसाधन और सामाजिक विकास मंत्रालय ने इस संबंध में जानकारी दी है, मंत्राल का कहना है कि इन सुधारों के तहत विदेशी कर्मचारियों को एक जगह से दूसरी जगह काम करने, नौकरी छोड़ने.

देश में फिर से प्रवेश करने और अपने नियोक्ता की सहमति के बिना अंतिम निकासी वीजा सुरक्षित करने की अनुमति दी जाएगी, सऊदी अरब में रह रहे मजदूर अब सीधे तौर पर सरकारी सेवाओं के लिए आवेदन कर सकेंगे.

मंत्रालय ने यह भी बताया है कि नए कफाला स्‍पॉन्‍सरशिप प्रोग्राम के तहत कंपनी के मालिकों के साथ होने वाले कॉन्ट्रैक्ट को अब ऑनलाइन रखा जाएगा.

इससे पहले बिना कंपनी की अनुमति के प्रवासी मजदूरों को ऐसा कुछ भी करने की इजाजत नहीं थी, अधिकांश कामगारों को वीजा का डर दिखाया जाता था.

सऊदी अरब के एक मंत्री अब्दुल्लाह बिन नसीर अबुथुनायन ने पहले कहा था कि वे देश में बेहतर श्रम बाजार बनाना चाहते हैं, सऊदी अरब में काम करने वाले मजदूरों को भी बेहतर माहौल देने की बात कही गई थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here