नई दिल्ली : केरल के त्रिशूर में प्रियंका गांधी ने लेफ्ट डेमोक्रेटिक फ्रंट के नेताओं पर निशाना साधा, इसके साथ ही, प्रियंका ने महिलाओं के खिलाफ अमर्यादित टिप्पणी ना करने की भी सलाह दी.

प्रियंका गांधी ने कहा दो दिन पहले एक एलडीएफ के नेता ने स्कूल और कॉलेज की लड़कियों के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी की थी, यह शुरुआत में सुनकर ऐस लगा जैसे वे उत्तराखंड और यूपी के मुख्यमंत्रियों से चुनाव प्रचार सीख रहे थे, मैं उनसे यह कहना चाहती हूं कि आप हमें ना सिखाएं कि क्या पहनना है और किससे प्यार कहना है.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

प्रियंका गांधी ने कहा कल पीएम मोदी ने बाइबल का हवाला दिया था, मैं यह मानती हूं कि ऐसा इसलिए क्योंकि चुनाव करीब है, लेकिन मैंने उनसे उन बहनों के बारे में कुछ नहीं सुना जिन्हें झांसी में उनकी पार्टी के यूथ विंग के गुंडों ने प्रताड़ित किया था और उनसे उनका धर्म पूछा था.

प्रियंका गांधी ने केरल के कोल्लम में चुनाव प्रचार के दौरान राज्य की सीपीएम की अगुवाई एलडीएफ सरकार पर जमकर निशाना साधा, उन्होंने कहा कि केरल के लोग राज्य का असली सोना हैं, लेकिन मुख्यमंत्री सोना तस्करी करने और बहुराष्ट्रीय कंपनियों को मत्स्य कारोबार का ठेका देने में व्यस्त हैं, उन्होंने कहा कि राज्य की संपत्तियों को कॉरपोरेट्स के हाथों बेचना इनका एजेंडा है.

प्रियंका गांधी ने कहा कि यह धोखाधड़ी और घोटालों’ वाली सरकार है, जो ‘उद्योगपतियों’ के घोषणापत्र पर अमल कर रही है, उन्होंने कहा कि एलडीएफ सरकार ने वामपंथी घोषणा पत्र लागू करने की शपथ ली थी, लेकिन वास्तव में वह केन्द्र सरकार की तरह ‘उद्योगपतियों’ के घोषणापत्र पर अमल कर रही है.

प्रियंका गांधी ने कहा यह धोखाधड़ी और घोटालों की सरकार है, हर समय नया घोटाला उभरकर आता है, मुख्यमंत्री कहते हैं कि उन्हें इस बारे में कोई जानकारी नहीं है, मैं उनसे पूछती हूं, अगर उन्हें यह नहीं पता है कि उनकी नाक के नीचे क्या हो रहा है तो फिर सरकार कौन चला रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here