नई दिल्ली : दिल्ली घराना के गायक उस्ताद इकबाल अहमद खान का गुरुवार को निधन हो गया, वह 66 साल के थे, उनके परिवार को एक सदस्य ने ये दुखद जानकारी दी.

उस्ताद इकबाल के दामाद इमरान खान ने कहा कि गुरुवार को प्रार्थना के दौरान उन्हें हृदयाघात हुआ, जिसके बाद हम उन्हें पास में दरियागंज के एक अस्पताल में ले गए, उन्हें वहां मृत घोषित कर दिया गया.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

डॉक्टर ने कहा कि उन्हें हृदयाघात हुआ था, उनके निधन पर गायक और संगीतकार विशाल ददलानी ने ट्विटर पर उस्ताद इकबाल की मौत पर शोक जताया है.

दिल्ली घराने के संरक्षक उस्ताद इकबाल अहमद खान को भारतीय शास्त्रीय संगीत की विभिन्न शैलियों ‘ठुमरी’, ‘दादरा’,‘भजन’ और ‘गजलों’ में बहुमुखी प्रतिभा के लिए जाना जाता है.

संगीतकार विशाल ददलानी ने माइक्रो ब्लॉगिंग साइट पर उस्ताद इकबाल अहमद खान के निधन पर शोक जताते लिखा, ‘दिल्ली घराने के प्रमुख उस्ताद इकबाल अहमद खान साहब के निधन से स्तब्ध और दुखी हूं.

मैंने इंडियन आइडल 2020 के दौरान उनके साथ बातचीत की थी और वह संगीत और सभी संगीतकारों के बारे में बहुत सहानुभूति रखते थे, मैंने आशा की थी कि महामारी खत्म होने के बाद मैं जाकर उनसे मिलूंगा.’

सिसोदिया ने लिखा, ‘दिल्ली घराने के खलीफा उस्ताद इकबाल अहमद खान अब नहीं रहे, दिल्ली के समृद्ध संगीत इतिहास के अग्रदूत और एक उदार गुरु के रूप में आप बहुत याद आएंगे, उनके शिष्यों और परिवार के प्रति संवेदना.’

सरोद वादक अमजद अली खान ने भी संवेदना व्यक्त करते हुए ट्वीट किया, ‘दिल्ली घराने के जाने-माने गायक उस्ताद इकबाल अहमद खान के निधन के बारे में जानकर बहुत दुख हुआ.

उनकी विरासत अपने संगीत के माध्यम से हमेशा जीवित रहेगी, उनकी आत्मा को शांति मिले.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here