यूपी के सीएम योगी कोरोना के खिलाफ जंग में धर्मगुरुओं का सहयोग ले रहे हैं, इस सिलसिले में सीएम योगी ने राज्य के 377 धर्मगुरुओं के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संवाद किया, यूपी के इतिहास में पहली बार कोई सीएम प्रदेश के सभी जिलों के धर्मगुरुओं से एकसाथ बातचीत की है, इसका मकसद कोरोना के खिलाफ जंग में धर्मगुरुओं के प्रभाव का इस्तेमाल करना है,

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

धर्मगुरुओं के साथ मीटिंग में लॉकडाउन को चरणबद्ध तरीके से हटाने को लेकर चर्चा हुई है, सीएम योगी ने दो दिन पहले भी विधायको के साथ मीटिंग मे कहा था कि लॉकडाउन के चरणबद्ध तरीके से खोला जाएगा, आज भी सीएम योगी ने धर्मगुरुओं के साथ वीडियों कांफ्रेस में कहा कि धर्म गुरु अपने शहर के लोगों को समझाएं कि लॉकडाउन हटने का मतलब ये नही कि सब कुछ सामान्य हो गया है, एहतियात आगे भी रखना होगा,

आज सीएम योगी ने यूपी के सभी सांसदों से बात की, इस दौरान सीएम कम्युनिटी किचन और राशन वितरण की समीक्षा की, सीएम ने प्रयागराज में मृतक के परिजनों के लिए पांच लाख रुपये के मुआवजे का एलान किया, सीएम ने हत्या के आरोपी के खिलाफ एनएसए के तहत कार्रवाई के निर्देश दिए हैं, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने कहा कि राज्य में अबतक 9015 लोगों पर एफआईआर दर्ज किया गया है, इसके अलावा 2 लाख 95 हजार लोग निषिद्ध किए गए हैं, उन्होंने कहा कि प्रदेश में एक करोड़ से अधिक वाहन चेक किए गए हैं,

रिपोर्ट के मुताबिक मीटिंग में इस बात पर चर्चा की गई कि लॉकडाउन कैसे और मजबूती से लागू किया जाए, प्रदेश में करीब साढ़े पांच लाख से अधिक लोग होम क्वारनटीन किए गए हैं, सीएम ने प्रदेश के सभी जिलों में चिकित्सा व्यवस्था पर बात की, जानकारी के मुताबिक यूपी में जेल से अब तक 10732 लोगों को छोड़ा गया है, यूपी में तबलीगी जमात में शामिल 1499 लोगों को चिन्हित कर लिया गया है, इस मामले में 1205 लोगों को क्वारनटीन किया गया है, इसके चलते उत्तर प्रदेश के कुछ जिलों में सम्पूर्ण लॉक डाउन किया जा रहा है, यूपी में तबलीगी जमात के 138 लोग संक्रमित पाए गए हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here