नई दिल्ली/लखनऊ: यूपी कांग्रेस अध्यक्ष लल्लू और सीएलपी नेता आराधना मिश्रा को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है, पुलिस ने पार्टी के अल्पसंख्यक विभाग के चेयरमैन शाहनवाज आलम को पुलिस ने पार्टी दफ्तर के गेट से उठा लिया था, हिरासत में लेने से पहले पुलिस ने कुछ बताया ही नहीं और बाद में दफ्तर के गेट के सीसीटीवी को चेक करने पर पता चला कि पुलिस ने उनको गिरफ्तार कर लिया है, उसके बाद सैकज़ों की संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता हजरतगंज थाने के सामने जुट गए और उन्होंने शाहनवाज की रिहाई की मांग शुरू कर दी, दबाव बढ़ने के बाद पुलिस ने कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज कर दिया, बाद में लल्लू थाने पहुंचे और उनकी एसएचओ से बात भी हुई लेकिन पुलिस शाहनवाज आलम को छोड़ने के लिए तैयार नहीं हुई, पुलिस का कहना है कि शाहनवाज आलम को सीएए विरोधी आंदोलन के दौरान हिंसा भड़काने में शामिल थे और उनको उसी आरोप में गिरफ्तार किया गया है,

लखनऊ प्रशासन जिन लोगों के नाम सीएए विरोधी आंदोलन में लेता रहा है उनमें शाहनवाज का नाम कभी भी नहीं आया, लेकिन अचानक पुलिस प्रशासन द्वारा शाहनवाज का नाम सीएए विरोधी आंदोलन से जोड़े जाने से लोग अचरज में हैं, दिनेश सिंह का कहना है कि शाहनवाज के खिलाफ कोई मामला बनता न देख पुलिस उनकी गिरफ्तारी को सीएए से जोड़ रही है, जबकि शाहनवाज का अभी तक प्रशासन ने इस मामले में कभी नाम तक नहीं लिया है,

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

आज कुछ देर पहले जब पार्टी दफ्तर से लल्लू और सीएलपी नेता आराधना मिश्रा सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ शाहनवाज की गिरफ्तारी का विरोध करने के लिए बाहर निकले पुलिस ने तभी उन सभी को रोक दिया, गेट पर ही कार्यकर्ताओं के साथ हल्का धक्का-मुक्की के बाद उन उन्हें हिरासत में ले लिया गया, और बताया जा रहा है कि उन्हें बसों में भरकर इको गार्डेन ले जाया गया है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here