नई दिल्ली : कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने आज मथुरा में किसान महापंचायत में हिस्सा लिया, इस दौरान प्रियंका ने कृषि कानूनों को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा.

प्रियंका ने कहा कि 90 दिनों से देश की राजधानी के बॉर्डर पर किसान अपने अधिकारों की लड़ाई लड़ रहा है, 215 किसान शहीद हुए, पीएम जो अपने शासनकाल में दुनिया के हर कोने तक पहुंच पाए, वो दिल्ली जहां वो रहते हैं, उसके बॉर्डर तक नहीं पहुंच पाए.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

प्रियंका गांधी ने राधे-राधे से भाषण शुरू किया और बांके बिहारी, यमुना मईया का जयकारा लगवाया, उन्होंने कहा कि यह धरती अहंकार तोड़ती है, इंद्र का अहंकार तोड़ने के लिए कृष्ण जी ने गोवर्धन पर्वत उठाया.

बीजेपी सरकार ने भी अहंकार पाल लिया है, अन्न उपजाने वाला और बॉर्डर पर जवान भेजने वाले किसान 90 दिनों से सड़कों पर बैठे हैं, प्रियंका ने आरोप लगाया कि सरकार ने किसानों को प्रताड़ित किया, उनसे मिलने ना प्रधानमंत्री आए ना किसी को भेजा.

प्रियंका ने कहा दिनकर जी ने कहा था, “जब नाश मनुज पर छाता है, पहले विवेक मर जाता है,” इस सरकार का विवेक मर चुका है, भगवान कृष्ण इनका अहंकार तोड़ेंगे, किसानों को आलू की फसल फेंकनी पड़ी.

गन्ना का 15 हजार करोड़ बकाया है, लेकिन पीएण ने अपने लिए दो जहाज खरीद लिए, पेट्रोल, डीजल, गैस के दाम बढ़ रहे हैं, स्मार्ट मीटर से लूट हो रही है.

प्रियंका गांधी ने हा कि ब्रज में गौशालाओं की स्थिति आपको मालूम है, गौ वंश को ना चारा मिल रहा है ना पानी, सरकार ने जो 200 करोड़ आवंटित किए उसका क्या हुआ? सरकार को ब्रज के लोगों से सीखना चाहिए कि गौ वंश की रखवाली कैसे होती है.

प्रियंका की सभा में कुछ युवकों ने नारेबाजी की, उनसे मिलने प्रियंका थोड़ी देर के लिए मंच से नीचे उतरीं, मंच के ठीक सामाने नारेबाजी कर रहे युवक जो पर्चे लहरा रहे थे उस पर लिखा है, राजस्थान की बेटी को न्याय दो.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here